जागरण संवाददाता, देहरादून: लॉकडाउन के बाद से लंबित पड़ी शिकायतों पर 27 जुलाई से सुनवाई शुरू हो जाएगी। लेकिन, वर्तमान में कोरोना के बढ़ते केस को देख आयोग एक दिन में दो शिकायतों का निस्तारण करेगा। फिलहाल सभी शिकायतें देहरादून जिले की निस्तारित की जाएंगी, अन्य जिलों की सुनवाई पर आयोग बाद में फैसला लेगा।

लॉकडाउन के बाद से आयोग के पास राज्यभर से तकरीबन 257 शिकायतें दर्ज हैं, इनमें अकेले देहरादून से सर्वाधिक 73 शिकायतें आ चुकी हैं। आयोग ने फिलहाल देहरादून जिले की शिकायतों का निस्तारण करने का फैसला लिया है। 27 जुलाई से आयोग में काउंसिलिंग की जाएगी। आयोग की सचिव कामिनी गुप्ता ने बताया कि हर दिन लोग फोन और ईमेल के जरिए शिकायतें दर्ज करवा रहे हैं। देहरादून में संख्या ज्यादा होने के चलते सबसे पहले यहां की शिकायतों का समाधान किया जाएगा। हालाकि, पहले एक दिन में चार से पाच शिकायतों पर सुनवाई होती थी, लेकिन हाल ही में कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या को देखते हुए अब एक दिन में सिर्फ दो ही शिकायतों का निस्तारण किया जाएगा। इसमें लोगों को शारीरिक दूरी का पालन, सैनिटाइजर, मास्क के बाद प्रवेश की अनुमति होगी। पहले शिकायतकर्ता व दूसरे पक्ष के साथ कई लोग आते थे, लेकिन इस बार शिकायतकर्ता और दूसरे पक्ष से दो-दो लोगों को ही बुलाया गया है। कोरोना संक्रमण के चलते अन्य जिलों से यातायात व्यवस्था की परेशानी को देखते हुए उनकी शिकायतों का निस्तारण बाद में किया जाएगा।

अप्रैल से जून तक दर्ज शिकायतें

जिला शिकायतें

देहरादून,73

हरिद्वार,54

ऊधमसिंह नगर,55

अल्मोड़ा,05

पिथौरागढ़,01

चंपावत,07

बागेश्वर,01

उत्तरकाशी,06

चमोली,05

रुद्रप्रयाग,01

टिहरी, 05

पौड़ी,16

नैनीताल, 18

अन्य राज्य, 10

कुल,257

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस