जागरण संवाददाता, ऋषिकेश:

मौसम परिवर्तन के साथ एसपीएस राजकीय चिकित्सालय में ओपीडी का समय भी बदल गया है। सुबह आठ बजे दोपहर दो बजे तक ओपीडी की सुविधाएं उपलब्ध होंगी।

एक मार्च को ओपीडी की नई समय सारणी लागू कर दी गई थी। चिकित्सालय में अवकाश होने के कारण कम संख्या में लोग आपातकालीन सेवाओं में पहुंचे। बुधवार को भी ओपीडी के समय बदलने की जानकारी नहीं होने के चलते अधिकांश लोग नौ बजे के बाद ही चिकित्सीय परामर्श के लिए पहुंचे। मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा. रमेश राणा ने बताया कि पहले ओपीडी का समय सुबह नौ बजे से दोपहर तीन बजे तक था, जो एक मार्च से सुबह आठ से दोपहर दो बजे तक हो गया है।

-------------------

वरिष्ठ नागरिक ने चिकित्सक पर लगाया अभद्रता का आरोप

एक वरिष्ठ नागरिक ने सरकारी अस्पताल के एक डाक्टर पर बदसलूकी का आरोप लगाया है। इसकी शिकायत उन्होंने स्वास्थ्य निदेशक से की है। आइडीपीएल राजकीय इंटर कालेज से सेवानिवृत्त शिक्षक मराछूराम ने आरोप लगाया कि बुधवार को पत्नी को चोट लगने पर उपचार के लिए ऋषिकेश राजकीय चिकित्सालय पहुंचे। ओपीडी में पर्चा बनवाने के बाद चोटिल पत्नी को लेकर वह संबंधित चिकित्सक के कक्ष की तरफ गए। आरोप लगाया कि करीब दो घंटे इंतजार करने के बाद भी डाक्टर कक्ष में नहीं पहुंचे तो इस बारे में कक्ष में बैठे प्रशिक्षु डाक्टर से जानकारी ली। बताया गया कि डाक्टर आपरेशन थियेटर में है, अभी आने में ओर देर लगेगी। सेवानिवृत्त शिक्षक ने बताया कि उन्होंने प्रशिक्षु डाक्टर को सुझाव दिया कि जब डाक्टर आपरेशन थियेटर में जाते हैं तो इसका एक नोटिस कक्ष के बाहर चस्पा कर देना चाहिए। कुछ ही देर बाद डाक्टर ओटी से अपने कक्ष में पहुंचे। प्रशिक्षु डाक्टर ने उनके सुझाव की शिकायत की। इस बात से नाराज डाक्टर ने उनका पर्चा फेंक दिया। इससे उन्हें और उनकी पत्नी के आत्मसम्मान को ठेस पहुंची है। महानिदेशक स्वास्थ्य से उन्होंने उचित कार्रवाई करने की मांग की है।

Edited By: Jagran

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट