देहरादून, [जेएनएन]: उत्तराखंड सरकार और इन्वेस्ट इंडिया एजेंसी के बीच स्टार्टअप नीति के क्रियान्वयन के लिए एमओयू पर हस्ताक्षर हुए हैं। इसके मुताबिक अब इन्वेस्ट इंडिया राज्य को स्टार्टअप नीति के क्षेत्र में तकनीकि और विशेषज्ञ सहयोग देगा। जिससे उत्तराखंड का उद्योग विकास अब और तेजी पकड़ेगा। 

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने एमओयू का स्वागत करते हुए कहा कि इससे राज्य के उभरते हुए युवा उद्यमियों को सहायता मिलेगी। राज्य की स्टार्टअप नीति-2017 के क्रियान्वयन में तेजी आएगी। साथ ही नए उद्योगों, स्टार्टअप की स्थापना से राज्य की विकास दर भी तेजी से बढ़ेगी। 

इस दौरान प्रमुख सचिव मनीषा पंवार ने बताया कि इन्वेस्ट इंडिया भारत सरकार की आधिकारिक निवेश प्रोत्साहन और फैसिलिटेशन एजेंसी है। भारत सरकार के मेक इन इण्डिया कार्यक्रम के अंतर्गत निवेशकों को हैंडलिंग होल्डिंग सहयोग प्रदान करने के लिये इसे प्रथम संपर्क बिंदु के रूप में स्थापित किया गया है। 

उन्होंने यह भी बताया कि राज्य की स्टार्टअप नीति के सफल क्रियान्वयन, इक्यूवेशन सेंटर की स्थापना, मेंटर्स का चयन समेत अन्य क्षेत्रों कार्य लिए इस एमओयू पर हस्ताक्षर हुए हैं। 

यह भी पढ़ें: यूपी के 76 गांवों को उत्तराखंड में मिलाने का हो रहा प्रयासः हरक सिंह

Posted By: raksha.panthari