देहरादून, [जेएनएन]: रविवार सुबह करीब 7:30 पर कांग्रेसी नेता सूर्यकांत धस्‍माना के ईसी रोड स्थित दफ्तर में तीन हथियार बंद बदमाश घुस आए। उन्होंने वहां मौजूद दो कर्मचारियों को तमंचे की नोक पर बंधक बनाकर कर्मचारी के जेवर ओर कुछ नगदी लूट ली और फरार हो गए। बताया जा रहा है कि बदमाश धस्माना पर हमला करने के इरादे से दफ्तर में घुसे थे। तहरीर के आधार पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर बदमाशों की तलाश शुरू कर दी है।

जानकारी के मुताबिक, सुबह दफ्तर में कार्यरत कर्मचारी धर्मेंद्र चाय बना रहा था। इससे दौरान हथियार बंद तीन लोग सीधे किचन में घुस आए और धर्मेंद्र से धस्‍माना के बारे में पूछने लगे और उसके साथ रहने वाले अन्य लोंगों के बारे में पूछने लगे। जैसे ही उसने अन्य लोगों के बारे में बताया तो बदमाशों ने उसके हाथ बांधकर आंखों में भी पट्टी बांध दी और दूसरे कमरे में पहुंचकर धर्मेंद्र के भाई विपिन के भी हाथ बांध दिए।

इसके बाद उन्होंने आफिस में रखे अलमारी, ड्रोज खंगाले और तेजी से इनकम टैक्स वाली गली में निकल गए। इसी दौरान विपिन रावत ने किसी तरह अपने हाथ खोले और आफिस में ही मौजूद एक अन्य कर्मचारी सूरज को यह बात बताई। दोनों ने छत में आकर शोर मचाना शुरू किया और इनकम टैक्स की ओर बदमाशों के पीछे भागे।

सूरज के मुताबिक तीनों एक सेंट्रो कर से निकल गए। बाद में उसे ने इसकी सूचना धस्‍माना को दी। सूचना पर धस्‍माना सहित एसएसपी, एसपी सिटी सहित अन्य पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे और कर्मचारियों से पूछताछ कर घटना की जानकारी ली। एसपी सिटी प्रदीप राय के कहा है कि सीसीटीवी फुटेज में बदमाश कैद हो गए है। कर्मचारियों ने जिस गाड़ी नम्बर दिया है, उसकी तलाश की जा रही है। जल्द ही बदमाशों को पकड़ लिया जाएगा।

वहीं, इस संबंध में सूर्यकांत धस्माना का कहना है कि वह रोज सुबह कुछ देर के लिए आफिस आते हैं। संडे होने की वजह से वह आज नहीं आए। बदमाशों को यह बात पता थी कि वह सुबह कुछ देर के लिए आते हैं। शायद वह उन पर हमला करने आए होंगे। पुलिस में तहरीर दी दी गई है।

यह भी पढ़ें: रात को जागरण में गया था परिवार, लौटने पर उड़ गई नींद

यह भी पढ़ें: अल्पसंख्यक मोर्चा के निर्माणाधीन कार्यालय में चोरों का धावा

यह भी पढ़ें: चोरों ने ज्वालापुर विधायक की गली में चटकाए ताले

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021