जागरण संवाददाता, देहरादून: श्री आदिनाथ दिगम्बर जैन पंचायती मंदिर, माजरा का स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर भव्य रथयात्रा निकाल प्रभु को नगर भ्रमण कराया गया। भजन-भ्रमण के साथ महिलाओं ने भगवान के दर्शन किए। साथ ही क्षुल्लक रत्न समर्पण सागर महाराज ने श्रीजी की महिमा का बखान किया।

रविवार को सुबह मंदिर में विधिवत पूजा-अर्चना के बाद क्षुल्लक रत्न समर्पण सागर महाराज के सानिध्य में श्रीजी को रथ पर विराजमान कर भव्य यात्रा रवाना हुई। सभी पात्रों का बोलियों द्वारा चयन किया गया। जिसमें श्रीजी के खवासी, सारथी, कुबेर, सौधर्म इंद्र, ईशान इंद्र चुने गए। प्रवचन में समर्पण सागर ने कहा कि जैन धर्म अहिंसा का वाहक रहा है, जिसमें प्राणी मात्र के प्रति दया भाव रखा जाता है। आज विदेशों में भी शाकाहार के प्रति जागृति आ रही है। अहमदाबाद को विश्व जैन नगरी लिखने पर उन्होंने हर्ष व्यक्त किया और कहा कि विश्व के सबसे ताकतवर देश के राष्ट्रपति को जैन सिटी दिखाने से जैन समाज की प्रतिष्ठा बढ़ेगी। मंदिर परिसर से शुरू हुई रथयात्रा शक्ति विहार, पारस टावर, चमन विहार, निरंजनपुर सब्जी मंडी, अशोक पार्क होते हुए बाजार पुलिस चौकी से वापस मंदिर में संपन्न हुई। यात्रा में सबसे आगे धर्म ध्वज चल रहा था। इसके बाद जैन धर्म की महिमा और त्याग तप की झाकी के पीछे नासिक की ढोल पार्टी पर श्रद्धालुओं ने सुंदर नृत्य प्रस्तुति दी। महिलाओं की ओर से श्रीजी के रथ के आगे भजन और नीरत किया गया। मुजफ्फरनगर के भजन गायक दीपक जैन ने शानदार भजनों की प्रस्तुति दी। इस अवसर पर विनोद जैन, प्रमोद जैन, अमित जैन, आदीश जैन, अजय जैन, रोहित जैन, मयंक जैन, प्रतीक जैन, हर्ष जैन, सुनील जैन, विपिन जैन, राजीव जैन, जिनेश्वर प्रसाद जैन, अनिल जैन, दिनेश जैन, शैलबाला जैन, प्रीति जैन, रजनी जैन, रीना जैन, निशा जैन, मीता जैन आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस