संवाद सहयोगी, कोटद्वार: वार्ड नंबर चार गाड़ीघाट में एक समुदाय की ओर से करवाए जा रहे निर्माण कार्य पर हिंदू संगठन भड़क उठे। हिंदू संगठनों ने समुदाय के व्यक्तियों पर क्षेत्र में धार्मिक स्थल बनाने का आरोप लगाया है। वहीं, सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने निर्माण कार्य रुकवा दिया। हिंदू संगठनों ने पूरे मामले की जांच नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी दी है।

बजरंग दल के जिला संयोजक आशीष सतीजा ने बताया कि गाड़ीघाट क्षेत्र में खोह नदी के तट पर पिछले कई दिनों से निर्माण कार्य चल रहा था। मंगलवार सुबह जब उन्होंने निर्माण कार्य कर रहे मजदूरों से पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि उक्त भूमि पर एक समुदाय की ओर से धार्मिक स्थल बनाया जा रहा है। आसपास मौजूद वार्डवासियों ने इसकी सूचना हिंदू संगठनों को दी। इसके बाद मौके पर विभिन्न ¨हदू संगठनों से जुड़े कार्यकत्र्ता पहुंचने लगे। हिंदू संगठनों की भीड़ देख निर्माण कार्य कर रहे मजदूर भी वहां से भाग गए।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड: श्रीदेव सुमन विवि के वीसी के प्रमाणपत्रों की होगी जांच, उच्च शिक्षा मंत्री ने दिए निर्देश

सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने स्थिति को काबू में किया। वहीं, निर्माण करवा रहे गाड़ीघाट निवासी शाहीन ने बताया कि वह बच्चों को ट्यूशन पढ़ाने के लिए उक्त भूमि पर दो कमरे बनवा रहा है। उक्त निर्माण कार्य को धार्मिक स्थल से जोड़कर विवाद खड़ा करने की कोशिश की जा रही है। वरिष्ठ उपनिरीक्षक जगमोहन रमोला ने बताया कि बढ़ते विवाद को देखते हुए फिलहाल निर्माण कार्य को रोक दिया गया है। इस मौके पर बजरंग दल के नगर अध्यक्ष हर्ष भाटिया, हिंदू युवा वाहिनी के राजेश जदली, संजय थपलियाल, दुर्गेश ममगाई, तेजपाल, मुकेश आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें-Devasthanam Board: सीएम पुष्कर धामी ने देवस्थानम बोर्ड को किया भंग, जानिए अब क्या होगा अगला कदम