जागरण संवाददाता, हरिद्वार : जगदगुरु स्वामी राजराजेश्वराश्रम के नाम इस्लामिक तालिबान की ओर से धमकी भरा पत्र मिलने से हरिद्वार में हड़कंप मच गया। डाक से भेजे गए इस पत्र में इस्लामी हुकूमत के लिए कत्लेआम की धमकी दी गई है। जबकि औरंगजेब और बाबर के नाम का उल्लेख करते हुए वर्ग विशेष का मसीहा बताया गया है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

पुलिस के मुताबिक, कनखल के जगदगुरु आश्रम के प्रबंधक नारायण शास्त्री ने पुलिस को तहरीर देकर बताया कि जगदगुरु स्वामी राजराजेश्वराश्रम के नाम पर आश्रम में डाक से एक पत्र पहुंचा है। इस्लामिक तालिबान की ओर से भेजे गए इस पत्र में कहा गया है कि भारत में 800 सालों तक हमारी हुकूमत रही है। एक बार फिर वही राज लाने के लिए कत्लेआम कर दिया जाएगा। पत्र में नेहरू गांधी के लिए भी अमर्यादित टिप्पणी लिखी गई हैं। एक लाइन में मोदी-योगी को संबोधित करते हुए वर्ग से न टकराने की धमकी दी गई है।

पत्र हिंदी में लिखा गया है। हालांकि सीधे तौर पर स्वामी राजराजेश्वराश्रम का नाम नहीं लिखा गया है। लेकिन, सामूहिक तौर पर मारने-काटने की धमकी दी गई है। चुनाव के मद्देनजर माहौल की संवेदनशीलता को देखते हुए पुलिस ने तत्काल प्रभाव से अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। चूंकि पत्र डाक से आया है, इसलिए पुलिस डाक विभाग के जरिये यह पता लगाने में जुट गई है कि पत्र आखिर किस जगह से भेजा गया है। वहीं, धमकी भरा पत्र मिलने पर खुफिया विभाग भी अलर्ट हो गया है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डा. योगेंद्र सिंह रावत ने बताया कि जगदगुरु आश्रम में डाक से धमकी भरा पत्र मिलने के मामले में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

यह भी पढ़ें- जानें- देश की सबसे बड़ी ठगी को लेकर सब कुछ, अब बाहर की जेलों में बंद आरोपितों को पूछताछ को लाया जाएगा दून

Edited By: Raksha Panthri