देहरादून, राज्य ब्यूरो। दीपावली के मौके पर राज्य के ढाई लाख कर्मचारियों, सहायताप्राप्त शिक्षण और प्राविधिक शिक्षण संसथानों, स्थानीय निकायों के नियमित, कार्यप्रभारित, राजकीय विश्वविद्यालयों व यूजीसी वेतनमान में कार्यरत पदधारकों और पेंशनरों को सरकार ने तोहफों से नवाजा है। सरकार ने पांच फीसद डीए और बोनस के सोमवार को आदेश जारी किए हैं। इसके बाद अब कर्मचारियों का डीए 12 फीसद से बढ़कर 17 फीसद हो गया है। डीए में बढोतरी से कार्मिकों को प्रति माह न्यूनतम करीब 900 रुपये से लेकर साढ़े बारह हजार रुपये तक लाभ मिलेगा। 

सरकार ने राज्य बनने के बाद पहली बार एक जुलाई से यानी पिछले तीन महीने का डीए भी नकद भुगतान करने का निर्णय लिया है। यानी कर्मचारियों और पेंशनरों को चार माह का डीए नकद मिलेगा। बाजार में छाई सुस्ती दूर करने के लिहाज से इसे बड़ा कदम माना जा रहा है। कर्मचारियों और पेंशनरों की मुराद पूरी करते हुए सरकार ने दीपावली से पहले 25 अक्टूबर को वेतन भुगतान करेगी। वित्त ने सार्वजनिक निगमों-उपक्रमों और स्वायत्त संस्थाओं में कार्यरत कार्मिकों को भी डीए बढ़ाने की मंजूरी दी है। यह दीगर बात है कि इस संबंध में फैसला अब निगमों के प्रबंधन और सार्वजनिक उद्यम विभाग को करना है। 

दीपोत्सव पर कर्मचारियों की बल्ले-बल्ले हो गई है। सरकार ने बोनस, डीए के साथ ही दीपावली से पहले वेतन देने की उनकी मांग पूरी कर दी। सोमवार को पंचायत चुनाव के नतीजे जैसे ही आने शुरू हुए मुख्यमंत्री ने भी कर्मचारियों के दामन में खुशियां बिखेरने में देर नहीं लगाई। गौरतलब है कि बीते शनिवार को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बोनस और डीए देने की पत्रावली को हरी झंडी दे दी थी। इसके दूसरे दिन यानी सोमवार को इस संबंध में वित्त सचिव अमित नेगी की ओर से आदेश जारी कर दिए गए। 

बोनस से पड़ा 150 करोड़ का बोझ

अराजपत्रित श्रेणी के राज्य कर्मचारियों, सरकारी विभागों में कार्यरत कर्मचारियों, सहायताप्राप्त शिक्षण, प्राविधिक शिक्षण संस्थाओं, स्थानीय निकायों के 4800 ग्रेड वेतन तक कार्यरत कर्मचारियों को चालू वित्तीय वर्ष में तदर्थ बोनस के रूप में एकमुश्त 7000 रुपये मिलेंगे। कैजुअल, दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों को बोनस के रूप में 1200 रुपये मिलेंगे। बोनस भुगतान से सरकार के खजाने पर करीब 150 करोड़ का वित्तीय भार पड़ेगा।

यह भी पढ़ें: खुशखबरी: उत्‍तराखंड में 73 हजार युवाओं को मिलेगा रोजगार

डीए ने खास बना दी दिवाली 

प्रदेश के समस्त कर्मचारियों और पेंशनरों को पांच फीसद डीए वृद्धि के चलते कोषागार पर करीब 200 करोड़ का भार पडऩा है। चार माह का नकद डीए देकर सरकार ने कर्मचारियों की इस दीपावली को खास बना दिया है। सिर्फ अंशदायी पेंशन योजना के लाभार्थी कार्मिकों के डीए एरियर में से पेंशन अंशदान नियोक्ता के अंश के साथ नई पेंशन योजना से संबंधित खाते में जमा होगा। दीपावली से पहले 25 अक्टूबर को सभी कार्मिकों को वेतन भुगतान के लिए सरकार को करीब 1200 करोड़ की राशि का बंदोबस्त करना होगा। 

यह भी पढ़ें: खुशखबरी: पांच फीसद डीए और बोनस को मुख्यमंत्री ने दी मंजूरी

Posted By: Raksha Panthari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप