जागरण संवाददाता, देहरादून। दून में मंगलवार दोपहर भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए। हालांकि, कम तीव्रता के कारण कोई नुकसान नहीं हुआ। रेक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 3.8 आंकी गई। जिसका केंद्र साहिया के निकट बताया जा रहा है।

भूकंप के लिहाज से संवेदनशील जोन-4-5 में आने वाले दून में दोपहर बाद 1:42 बजे कई इलाकों में भूकंप के झटके महसूस किए गए। जिससे कई जगह लोग घरों व दफ्तरों से बाहर निकल आए। साथ ही वाट्सएप के माध्यम से भूकंप की सूचना प्रसारित की जाने लगी। इसके बाद राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र ने इसकी पुष्टि की। जिसके अनुसार भूकंप का केंद्र देहरादून में साहिया के निकट बताया गया और इसकी गहराई 10 किलोमीटर रही। इसका वास्तविक स्थान लैटीट्यूड 30.63 और लौंजीट्यूड 77.97 रहा।

देहरादून शहर से यह केंद्र करीब 60 मीटर की दूरी पर है। हालांकि, भूकंप कम मैग्नीट्यूड का होने के कारण अधिकतर इलाकों में इसका असर बेहद धीमा रहा। उत्तराखंड सरकार और आइआइटी रुड़की की ओर से तैयार किया गया उत्तराखंड भूकंप अलर्ट एप पर काफी देर तक कोई जानकारी उपलब्ध नहीं थी। लेकिन, एक घंटे के बाद एप पर देहरादून में भूकंप के झटके की सूचना अंकित की गई।

जानिए क्यों बार-बार आता है भूकंप

पृथ्वी के अंदर सात प्लेट्स होती हैं, जो लगातार घूमती रहती हैं। जहां ये प्लेट्स ज्यादा टकराती हैं, वह जोन फॉल्ट लाइन कहलाता है। इस दौरान जब बार-बार टकराने से प्लेट्स के कोने मुड़ते हैं। जब ज्यादा दबाव बनता है तो प्लेट्स टूटने लगती हैं और नीचे की ऊर्जा बाहर आने का रास्ता खोजती हैं। इससे डिस्टर्बेंस होना शुरू होता है। इसके चलते ही बार-बार भूकंप आता है।

 

Edited By: Raksha Panthri