जागरण संवाददाता, देहरादून। प्लाट बेचने के नाम पर एक व्यक्ति ने बुजुर्ग से 15 लाख रुपये की ठगी कर ली। आरोपित ने समझौता कर पीड़ित के बेटे को कनाडा भेजने की बात कही थी, लेकिन अब तक उसे भी कनाडा नहीं भेजा। पीड़ित ने पिछले दिनों मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को पत्र भेजकर मामले की शिकायत की थी। मुख्यमंत्री कार्यालय के निर्देश पर रायपुर थाना पुलिस ने रविवार को आरोपित के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया।

रायपुर थानाध्यक्ष अमरजीत सिंह रावत ने बताया कि मनमोहन निवासी जीरकपुर एसएएस नगर मोहाली (पंजाब) ने मुख्यमंत्री को पत्र भेजकर शिकायत की थी कि संजीव तोमर निवासी करण विहार करनाल (हरियाणा) ने अपने परिचित के साथ मिलकर उन्हें देहरादून में चकराता रोड स्थित दीपलोक कालोनी में प्लाट दिलाने की बात कही थी। प्लाट दिखाने और सौदा तय होने के बाद संजीव ने 26 जुलाई 2019 को फर्जी पावर आफ अटार्नी के आधार पर विक्रय पत्र तैयार किया और उनसे 15 लाख रुपये ले लिए। बाद में उन्हें पता चला कि प्लाट किसी और का है।

इसके बाद पीड़ित ने धनराशि वापस मांगी तो आरोपित ने कहा कि वह रकम नहीं लौटा पाएगा, लेकिन उनके बेटे को कनाडा में नौकरी दिला देगा। अब तक उनके बेटे को कनाडा में नौकरी नहीं मिली है। धनराशि वापस मांगने पर आरोपित जान से मारने की धमकी दे रहा है।

हास्टल में बिजली चोरी पकड़ी, केयर टेकर पर मुकदमा

करनपुर क्षेत्र में ऊर्जा निगम ने एससी-एसटी हास्टल में बिजली चोरी पकड़ी है। यहां खंभे से सीधे तार जोड़कर बिजली चोरी की जा रही थी। ऊर्जा निगम के अधिकारियों की शिकायत पर हास्टल के केयर टेकर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। रविवार को करनपुर क्षेत्र में डीएल रोड पर चावला चौक के पास स्थित एससी-एसटी हास्टल में ऊर्जा निगम ने छापेमारी की।

अवर अभियंता राजबीर सिंह, सतर्कता इकाई के सहायक अभियंता धनंजय कुमार, उपखंड अधिकारी कुलभूषण कुकरेती, लाइनमैन ताजवीर सिंह शिकायत पर हास्टल पहुंचे। जहां एसएसटी हास्टल में एलटी लाइन के खंभे पर लगे बाक्स से केबल काटकर उसमें 10 मीटर लंबी तार जोड़कर बिजली चोरी की जा रही थी। इंस्पेक्टर डालनवाला नंद किशोर भट्ट ने बताया कि एई राजबीर सिंह की तहरीर पर हास्टल के केयर टेकर नरेंद्र शर्मा और मौके पर मौजूद मूरत सिंह के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया गया है।

यह भी पढ़ें- यहां सुरक्षा गार्ड भर्ती के नाम पर बेरोजगारों से हो रही ठगी, बड़े-बड़े वायदे कर ले रहे हैं झांसे में

Edited By: Raksha Panthri