जागरण संवाददाता, देहरादून। पुलिस अधीक्षक अपराध ने एंटी ड्रग टास्क फोर्स (एटीडीएफ) में नियुक्त अधिकारियों और कर्मचारियों को नशा बेचकर संपत्ति अर्जित करने वाले नशा तस्करों की सूची तैयार करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जो तस्कर पिछले 10 वर्षों में नशा तस्करी में गिरफ्तार किए गए हैं, उनका भौतिक सत्यापन कर सक्रिय अपराधियों के खिलाफ कार्रवाई करें।

शुक्रवार को हुई बैठक में एसपी क्राइम प्रकाश चंद्र ने कहा कि इंटरनेट मीडिया के माध्यम से नशे के दुष्प्रभावों और बचाव के लिए प्रचार-प्रसार करें। थाना क्षेत्र में संचालित नशा मुक्ति केंद्रों की सूची तैयार कर उनका भौतिक सत्यापन किया जाए और थाना क्षेत्रों में चलने वाले हुक्का बार, पब, स्नूकर सेंटर की समय-समय पर चेकिंग की जाए। जो दुकान व मेडिकल स्टोर अवैध रूप से इंजेक्शन व कैप्सूल बेचते हैं, उन्हें चिह्नित कर जिला औषधि निरीक्षक से समन्वय स्थापित कर दबिश की कार्रवाई करें। इस मौके पर रविंदर शाह प्रभारी साइबर सेल, नदीम अतहर प्रभारी एसओजी, इंस्पेक्टर सतवीर सिंह सहित प्रत्येक थाने से एक-एक दारोगा व दो-दो कांस्टेबल मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें- हरिद्वार: नशे में बाइक चलाकर कर रहे थे स्टंट, पुलिस ने गिरफ्तार कर सिखाया सबक; चालान भी कटा

अवैध रूप से बना काम्पलेक्स किया ध्वस्त

मोथरोवाला क्षेत्र में अवैध रूप से निर्मित काम्पलेक्स पूरी तरह से ध्वस्त कर दिया गया है। मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण (एमडीडीए) ने दो दिन की कार्रवाई के बाद भवन को पूरी तरह जमींदोज कर दिया। मोथरोवाला क्षेत्र के टिहरी नगर में तीन मंजिला निर्माणाधीन काम्पलेक्स का जेसीबी और मजदूरों के माध्यम से ध्वस्तीकरण किया गया। यहां आनंद रावत नाम के व्यक्ति ने बिना नक्शा पास कराए तीन मंजिला काम्पलेक्स का निर्माण शुरू कर दिया था।

यह भी पढें- सेलाकुई पुलिस ने बिहार के एक व्‍यक्ति को एक किलो 710 ग्राम गांजे के साथ किया गिरफ्तार

इस संबंध में एमडीडीए ने अवैध निर्माण का चालान कर काम बंद करने के आदेश दिए। इसके बाद भी निर्माण जारी रहने पर एमडीडीए ने सीलिंग की कार्रवाई की। हालांकि, कोर्ट से स्टे मिलने के बाद कार्रवाई रोकनी पड़ी थी। गुरुवार सुबह कोर्ट की रोक हटी तो एमडीडीए ने तत्काल ध्वस्तीकरण शुरू कर दिया। शुक्रवार को भवन पूरी तरह ध्वस्त कर दिया गया।

यह भी पढ़ें- देहरादून में अवैध रूप से मांस बेचने पर दो व्‍यक्ति गिरफ्तार

Edited By: Raksha Panthri