जागरण संवाददाता, ऋषिकेश। संकट की घड़ी में देवभूमि का जनमानस एक साथ देश के साथ खड़ा है, इस बात को दैनिक जागरण की ओर से आयोजित सर्वधर्म प्रार्थना सभा ने साबित किया है। तीर्थ नगरी में अस्पताल के आइसीयू से लेकर भगवान के दरबार तक हजारों हाथ प्रार्थना के लिए उठे। सभी ने कोरोना के कारण प्राण गंवाने वाले नागरिकों की आत्म शांति के लिए प्रार्थना की। चिकित्सालय में इस संक्रमण से लड़ रहे नागरिकों के स्वास्थ्य लाभ की कामना करते हुए कोरोना योद्धाओं को सभी ने सैल्यूट किया।

सर्वधर्म प्रार्थना सभा से तीर्थ नगरी के अधिसंख्य लोग किसी ना किसी रूप में शामिल हुए। किसी ने संस्थान में, किसी ने सार्वजनिक स्थलों पर तो किसी ने अपने घर में बैठकर प्रार्थना की। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान ऋषिकेश के कोविड सेंटर के भीतर संक्रमित व्यक्तियों की सेवा में लगे स्वास्थ्य कर्मियों ने इस प्रार्थना में भागीदारी निभाई। हिमालयन हॉस्पिटल जौली ग्रांट के आईसीयू के भीतर भी मरीजों की सेवा में लगे कोरोना योद्धाओं ने सबके स्वस्थ होने की प्रार्थना की। स्वामी राम हिमालयन विश्वविद्यालय के कुलपति डा. विजय धस्माना के साथ विश्वविद्यालय परिसर के सदस्यों ने प्रार्थना सभा आयोजित की।

सर्वे भवंतु सुखी ना सर्वे भवंतु निरामया की भावना को आत्मसात करते हुए विभिन्न संगठनों ने गंगा तट पर मां गंगा से सबके स्वस्थ होने की प्रार्थना की। ऐतिहासिक गांधी स्तंभ के नीचे भी कई संगठन प्रार्थना करने पहुंचे। परमार्थ निकेतन में ऋषि कुमारों के साथ स्वामी चिदानंद सरस्वती ने शांति पाठ कर देश और समाज की खुशहाली की कामना की। पौराणिक श्री नीलकंठ महादेव मंदिर में महंत सुभाष पुरी महाराज के साथ मंदिर से जुड़े सेवकों ने भगवान भोले का जलाभिषेक करने के साथ प्रार्थना की।

ऋषिकेश के ग्राम देवता श्री भरत मंदिर के दरबार में महंत वत्सल प्रपन्नाचार्य महाराज के सानिध्य में नागरिकों ने हाजिरी लगाई और सबके स्वस्थ होने की प्रार्थना की। इंदिरा नगर में विश्व रक्तदान दिवस पर आयोजित शिविर के शुरू होने से पहले पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, नगर निगम महापौर अनीता ममगाईं, प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल के संरक्षक अनिल गोयल के साथ नागरिकों ने प्रार्थना की। श्री रामकिंकर विचार मिशन के अध्यक्ष संत मैथिली शरण महाराज के सानिध्य में भी शांति पाठ किया गया।

कई बीमार व्यक्तियों को एम्स व अन्य चिकित्सालय में पहुंचाने वाले एंबुलेंस चालकों ने इस संकट के समय एम्स गेट के बाहर खड़े होकर भगवान से सबके स्वस्थ होने की कामना की। वैदिक फाउंडेशन हिमालया योगा लय आश्रम गंगा वाटिका मुनिकीरेती में साधकों ने हवन कर शांति पाठ किया। समाज का शायद ही कोई वर्ग ऐसा होगा जो सर्वधर्म प्रार्थना में शामिल ना हुआ हूं।

रोटरी क्लब ऋषिकेश, श्री गंगा सभा, रोटरी क्लब ऋषिकेश, सेंट्रल नगर उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल, शिवालिक डायग्नोस्टिक अल्ट्रासाउंड सेंटर, ऋषिकेश पब्लिक स्कूल, आरके कंपलेक्स परिवार तहसील परिसर, ऋषिकेश व्यापार महासभा, उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस तमाम संगठनों की ओर से प्रार्थना सभा आयोजित की गई। नगर निगम में नगर आयुक्त नरेंद्र सिंह क्वीरियाल के साथ नगर निगम स्टाफ कोतवाली परिसर में प्रभारी निरीक्षक शिशुपाल सिंह नेगी के साथ सभी उप निरीक्षक और स्टाफ प्रार्थना सभा में शामिल हुए।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड में देश के अंतिम गांव नीति माणा से नेपाल सीमा तक प्रार्थना सभाएं

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

Edited By: Raksha Panthri