जागरण संवाददाता, देहरादून। साइबर ठगों ने चार लोग को अपने जाल में फंसाकर साढ़े आठ लाख रुपये ठग लिए। पुलिस ने चारों मामलों में मुकदमा दर्ज कर लिया है। शिवानी निवासी साईं लोक कालोनी जीएमएस रोड ने बताया कि सितंबर में इंस्टाग्राम पर जेम्स नामक व्यक्ति ने बताया कि वह विदेश में रहता है। जल्द ही वह भारत आकर उनसे मुलाकात करेगा। 27 सितंबर को उन्हें वाट्सएप पर प्रियंका दुबे नामक महिला का फोन आया। महिला ने कहा कि दिल्ली एयरपोर्ट पर कस्टम ने एक जेम्स नामक व्यक्तिकों 88 लाख रुपये के साथ पकड़ा है, जो कि आपका नाम ले रहा है। महिला ने उसे धमकाया कि पेनल्टी के रूप में तुरंत एक लाख 58 हजार रुपये खाते में डालो, नहीं तो जेम्स के साथ उन्हें भी जेल जाना पड़ेगा। इसके बाद दोबारा चार लाख खाते में डालने को कहा। शिवानी ने गहने गिरवी रखकर बताए गए खाते में कुल पांच लाख 58 हजार रुपये डाले। ठगी का एहसास होने पर शिवानी ने इसकी शिकायत साइबर थाने में की।

वहीं, दूसरे मामले में तृप्ति निवासी महारानी बाग ने बताया कि उन्होंने ओएलएक्स पर गद्दे का विज्ञापन देखा। विज्ञापन पर दिए नंबर पर संपर्क करने पर उनकी समीर सक्सेना से बातचीत हुई। समीर ने गद्दों का रेट 5500 रुपये बताया और आनलाइन पेमेंट के लिए वाट्सएप पर क्यूआर कोड भेज स्कैन करने को कहा। महिला ने जैसे ही कोड स्कैन किया तो उनके खाते से 94 हजार रुपये उड़ गए।

इसी तरह सहस्रधारा रोड एकता विहार निवासी धीरा जोशी ने बताया कि साइबर ठग ने उनके परिचित धर्मपाल की ईमेल आईडी हैक कर मेल भेजी कि वह यूके में है। उनके भतीजे चर्चित वर्मा का हार्ट का आपरेशन होना है। इसलिए एक लाख रुपये की जरूरत है। धीरा जोशी ने पांच व छह अक्टूबर को एक लाख रुपये ईमेल पर दिए खाते में भेज दिए। इसके बाद फिर ठग ने 30 हजार रुपये और मांगे। इसी दौरान धर्मपाल ने धीरा जोशी को फोन करके बताया कि उनकी ईमेल हैक हो गई है। ठगी का एहसास होने पर धीरा जोशी ने साइबर थाने में शिकायत दी।

इसी तरह फ्रेंड्स लेन पुराना राजपुर निवासी धावा टी भूटिया ने बताया कि उन्हें 12 अक्टूबर को वाट्सएप काल आया, जिसमें फोटो उनके दामाद दोरजी वांगचुक की लगी थी। व्यक्ति ने बताया कि उन्हें तुरंत 98 हजार रुपये की जरूरत है। जब धावा टी भूटिया ने नंबर पर फोन किया तो व्यक्ति ने फोन काट दिया। व्यक्ति ने वाट्सएप पर अपने खाते की डिटेल भेजी। इसके बाद धावा टी भूटिया ने दिए गए नंबर पर 98 हजार रुपये भेज दिए। बाद में उन्हें पता लगा कि किसी ने दामाद का फोन हैक किया है।

यह भी पढ़ें:- Dehradun Crime News: खुद को बैंक अधिकारी बता महिला से ठगे 83 हजार

Edited By: Sunil Negi