देहरादून, [राज्य ब्यूरो]: विधानसभा के चार दिनी मानसून सत्र में अपने प्रदर्शन को लेकर कांग्रेस विधानमंडल दल और प्रदेश संगठन ने अपनी पीठ थपथपाई। नेता प्रतिपक्ष डॉ इंदिरा हृदयेश एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष व विधायक प्रीतम सिंह ने दावा किया कि विपक्ष ने सदन में जन हित के मुद्दों को शिद्दत से उठाकर सरकार की घेराबंदी की। उन्होंने लोकायुक्त के मुद्दे पर सरकार पर जानबूझकर देरी करने का आरोप लगाया। 

प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में नेता प्रतिपक्ष डॉ इंदिरा हृदयेश व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह तकरीबन आधा दर्जन विधायकों के साथ पत्रकारों से मुखातिब हुए। 

इस दौरान चार दिनी सत्र में उठाए गए मुद्दों का ब्योरा पेश करते हुए दावा किया गया कि विधानसभा के मानसून सत्र में कांग्रेस ने सरकार को कई मौकों पर निरुत्तर कर दिया। सत्र में सत्तारूढ़ दल भाजपा के विधायकों की ओर से अपने ही मंत्रियों की घेराबंदी पर कांग्रेस नेताओं ने कहा कि कांग्रेस ने अनुपूरक सवालों में मंत्रियों को निरुत्तर कर दिया। कांग्रेस के रुख के चलते विधानसभा अध्यक्ष ने सरकार को सख्त हिदायतें जारी कीं। 

उन्होंने कहा कि पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस की बढ़ी कीमतों समेत महंगाई, अतिक्रमण, कानून व्यवस्था, दैवीय आपदा, राज्य आंदोलनकारियों के साथ ही लोकायुक्त के मामले में सरकार की कथनी और करनी में अंतर को विपक्ष सामने लाने में कामयाब रहा। 

डॉ हृदयेश और प्रीतम सिंह ने लोकायुक्त के मुद्दे पर सरकार पर लेटलतीफी का आरोप मढ़ा। उन्होंने कहा कि लोकायुक्त विधेयक को प्रवर समिति के संशोधनों के साथ विधानसभा में पेश किया जा चुका है। इसके बावजूद इस विधेयक को पारित करने के लिए प्रयास नहीं किए गए। पीठ की ओर से पांच मामलों में दी गई हिदायत का हवाला देते हुए पार्टी ने भाजपा सरकार की कार्यप्रणाली पर सवाल दागे। 

उन्होंने बताया कि पार्टी की ओर से ये साबित करने की कोशिश की गई कि महज 11 विधायकों ने प्रचंड बहुमत की सरकार को घेरने में कसर नहीं छोड़ी। इस मौके पर विधायक ममता राकेश, आदेश चौहान, मनोज रावत व राजकुमार भी मौजूद थे।

यह भी पढ़ें: मनमाना हाउस टैक्स वसूलने के खिलाफ सड़क पर उतरे कांग्रेसी, ईओ का किया घेराव

यह भी पढ़ें: जनहित के मुद्दों को लेकर विधानसभा क्षेत्रों का दौरा करेगी यूकेडी

यह भी पढ़ें: लोकायुक्त पर कांग्रेस ने सदन में किया हंगामा

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप