राज्य ब्यूरो, देहरादून : City Park in Dehradun : राजधानी में नागरिक सुविधाओं के विस्तार की दिशा में सरकार एक बड़ा कदम उठाने जा रही है। नागरिकों को सुकून की छांव उपलब्ध होने के साथ ही वे कुछ क्षण प्रकृति की गोद में बिता सकें, इसके लिए सहस्रधारा हेलीपैड के नजदीक सिटी पार्क की कार्ययोजना को अंतिम रूप दे दिया गया है।

लगभग 30 करोड़ रुपये की लागत

वहां इसके लिए 10 हेक्टेयर भूमि चिह्नित की गई है। लगभग 30 करोड़ रुपये की लागत की इस योजना का जिम्मा मसूरी देहरादून विकास प्राधिकरण (एमडीडीए) को सौंपा गया है। वह चरणबद्ध ढंग से इस पार्क का निर्माण कराएगा। देहरादून शहर के चारों तरफ भले ही जंगल हो, लेकिन शहर के भीतर नागरिकों के लिए पार्कों की संख्या अंगुलियों में गिनने लायक ही है।

गांधी पार्क को छोड़ दिया जाए तो बीच शहर में ऐसा अन्य कोई स्थान नहीं है। इसे देखते हुए शहरी विकास विभाग ने शहर में गांधी पार्क की तरह ही सिटी पार्क विकसित करने का निर्णय लिया। इसके लिए सहस्रधारा हेलीपैड के नजदीक की भूमि चयनित कर इसकी विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार की गई।

यह शासन को उपलब्ध हो चुकी है। शुक्रवार को सचिवालय में अपर मुख्य सचिव शहरी विकास आनंद बद्र्धन ने विभागीय अधिकारियों के साथ इस संबंध में विमर्श किया। तय किया गया कि चरणबद्ध ढंग से इसका निर्माण कराया जाएगा। साथ ही एमडीडीए को निर्देश दिए गए कि वह इस पार्क को बेहतर ढंग से विकसित करे, ताकि नागरिक इसका लाभ उठा सकें।

सिटी पार्क में ये होंगी सुविधाएं

  • वाकिंग ट्रेल
  • साइकिल ट्रेल
  • किडस प्ले एरिया
  • स्केटिंग
  • ओपन जिम

सिटी पार्क के निर्माण का जिम्मा एमडीडीए को सौंपा गया है, चरणबद्ध ढंग से कार्य कराएगा। प्रयास ये है कि दिसंबर से इसका निर्माण कार्य शुरू करा दिया जाए और इसे जल्द पूरा कराकर मार्च तक पार्क के प्रथम चरण के हिस्से को नागरिकों के लिए खोल दिया जाए।

-आनंद बर्धन, अपर मुख्य सचिव शहरी विकास

Edited By: Nirmala Bohra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट