जागरण संवाददाता, ऋषिकेश:

चारधाम यात्रा में करीब 10 हजार यात्रियों का बैकलाग निपटाने के बाद प्रशासन के सामने नए यात्रियों के लिए बसें उपलब्ध कराना चुनौती बन गया है। संयुक्त रोटेशन यात्रा व्यवस्था समिति के पास बसों का टोटा पड़ गया है। सोमवार के लिए रोटेशन के समक्ष करीब ढाई हजार यात्रियों की एडवांस डिमांड है। प्रशासन की ओर से मांग के बावजूद अतिरिक्त बसों की अब तक व्यवस्था नहीं कराई गई है।

चारधाम यात्रा में अत्यधिक भीड़ आने के कारण बसों का संकट बढ़ता ही जा रहा है। गढ़वाल आयुक्त और परिवहन आयुक्त के निर्देश पर ऋषिकेश में रुके करीब 10 हजार यात्रियों को तीन दिन के भीतर यहां से रवाना किया जा चुका है। ऋषिकेश में बसों की सुविधा मिलने की सूचना के बाद हरिद्वार में रुके यात्री बड़ी संख्या में ऋषिकेश पहुंच गए हैं। इसके अतिरिक्त कई प्रांतों से भी बड़ी संख्या में यात्री यहां आ गए हैं। बस टर्मिनल कंपाउंड परिसर सहित यहां की धर्मशाला और आश्रम यात्रियों से पैक हो गए हैं। परिवहन विभाग की ओर से कुमाऊं मंडल से 50 गाड़ियां मंगवाई गई थी। जिनमें रोटेशन के हिस्से मात्र 16 बसें आई। इसी तरह से 25 सिटी बस भी मंगवाई गई थी, जो रोटेशन को प्राप्त नहीं हो पाई।

उत्तराखंड परिवहन निगम ऋषिकेश डिपो की ओर से भी बसों की व्यवस्था की जा रही है। परिवहन निगम के सहायक महाप्रबंधक पीके भारती ने बताया कि रविवार को 25 बसों में 857 श्रद्धालुओं को विभिन्न धामों के लिए यहां से रवाना किया गया। संयुक्त रोटेशन की ओर से 62 बसों के जरिये श्रद्धालु विभिन्न धामों के लिए रवाना किए गए। यातायात कंपनी की ओर से भी बसें रवाना की गई। स्थानीय प्रशासन अब स्कूल बसों को यात्रा पर भेजने की तैयारी में जुट गया है।

-------------------

ऋषिकेश में पुराने यात्रियों को यहां से यात्रा पर भेजा जा चुका है। हरिद्वार से बड़ी संख्या में यात्री यहां पहुंच गए हैं। बस अड्डा परिसर में भी नए यात्रियों की भारी भीड़ मौजूद है। परिवहन विभाग को अधिक बसें लगाने के लिए कहा गया है। यात्रा में स्कूल बसों को भेजे जाने की तैयारी है। यात्रियों को ठहराने के लिए ऋषिकेश के सात वेडिग प्वाइंट और सात विद्यालयों को सूचीबद्ध किया गया है।

- शैलेंद्र सिंह नेगी, जिलाधिकारी व नोडल अधिकारी यात्रा, ऋषिकेश

-----------------

परिवहन विभाग को काफी पहले ही अतिरिक्त बसें उपलब्ध कराने के लिए लिखा जा चुका है। कुमाऊं मंडल से सिर्फ 16 बसें हमें मिली है। कोई सिटी बस हमें उपलब्ध नहीं कराई गई है। मुख्यमंत्री से आग्रह किया गया है कि हिमाचल प्रदेश नहान से अतिरिक्त बसों की व्यवस्था की जाए। स्कूल बस और सिटी बस की भी मांग की गई है। यात्रा पर भेजने के लिए संयुक्त रोटेशन के पास बसों की कमी पड़ गई है।

- संजय शास्त्री, अध्यक्ष, संयुक्त रोटेशन यात्रा व्यवस्था समिति

------------------

परिवहन विभाग की ओर से कुमाऊं मंडल से 50 बसें मंगवाई गई थी। 25 सिटी बस यात्रा पर लगाई गई है। इसके अतिरिक्त उच्चाधिकारियों को अतिरिक्त बस उपलब्ध कराने के लिए लिखा गया है। ऋषिकेश क्षेत्र में स्थित विद्यालयों की बसों को यात्रा पर भेजे जाने के लिए सोमवार को स्कूल प्रबंधकों की बैठक बुलाई गई है।

- अरविद कुमार पांडे, एआरटीओ, प्रशासन ऋषिकेश

Edited By: Jagran