देहरादून, [राज्य ब्यूरो]: भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के भाजपा सरकार द्वारा केदारनाथ धाम में किए जा रहे विकास कार्यों को लेकर दिए गए बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि हरीश रावत ने या तो आख बंद कर ली या फिर केदारनाथ धाम की यात्रा व्यवस्था का सच बोलने से कतरा रहे हैं। 

एक बयान में अजय भट्ट ने कहा कि केदारनाथ धाम के विकास के लिए केंद्र व प्रदेश की भाजपा सरकारें शानदार काम कर रही हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वयं विकास कार्यो की निगरानी कर रहे हैं। देश-विदेश से आ रहे तीर्थ यात्री व्यवस्था को लेकर अभिभूत हैं। 

उन्होंने कहा कि दूसरी ओर, पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत केवल आलोचना करने में ही व्यस्त हैं। इससे साफ है कि वे केदारनाथ धाम पर केवल राजनीति ही कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि केदारनाथ धाम का विकास आज और भविष्य, दोनों की आवश्यकताओं को ध्यान में रख कर किया जा रहा है लेकिन हरीश रावत को हर बात पर राजनीति करने की आदत है। वे आस्था के केंद्र पर भी राजनीति कर रहे हैं जो निंदनीय है। भट्ट ने यह सवाल भी किया कि उनकी उस दूरबीन का क्या हुआ, जो वह लेकर केदारनाथ धाम जाने वाले थे । 

महंगाई भत्ते का विरोध जनविरोधी सोच: भसीन 

भाजपा प्रदेश मीडिया प्रभारी डॉ. देवेंद्र भसीन ने काग्रेस द्वारा राज्य कर्मचारियों को महंगाई भत्ता दिए जाने का विरोध किए जाने को काग्रेस की जन विरोधी सोच का परिचायक बताया है। डॉ. भसीन ने काग्रेस द्वारा मुख्य निर्वाचन अधिकारी को दिए गए पत्र, जिसमें थराली विधानसभा उपचुनाव के बहाने राज्य कर्मचारियों को महंगाई भत्ता देने के ख़िलाफ़ शिकायत की गई है, पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि यह काग्रेस के जनविरोधी चरित्र का प्रमाण है।

यह भी पढ़ें: केदारनाथ के मौलिक स्वरूप से छेड़छाड़: पूर्व सीएम हरीश रावत

यह भी पढ़ें: दिवाकर भट्ट बोले, धन बल का प्रयोग कर रही है कांग्रेस-भाजपा

यह भी पढ़ें: डबल इंजन की सरकार जनता को सुविधाएं देने में फेल

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप