राज्य ब्यूरो, देहरादून

पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि राज्य में साहसिक पर्यटन को बढ़ावा देने में 20 से 22 मार्च तक कार्बेट नेशनल पार्क रामनगर में होने वाला उत्तराखंड एडवेंचर टूरिज्म समिट अहम साबित होगा। उन्होंने कहा कि इस आयोजन में साहसिक पर्यटन से जुड़े स्थानीय हितधारकों को भी आमंत्रित किया जाएगा। उधर, सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर ने मंगलवार को पर्यटन मुख्यालय में फेडरेशन आफ इंडियन चैंबर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (फिक्की) और एडवेंचर टूर ऑपरेटर्स एसोसिएशन आफ इंडिया (एटीओएआइ) के प्रतिनिधियों संग समिट को लेकर मंथन किया।

पर्यटन मंत्री महाराज ने कहा कि समिट के आयोजन से भीमताल, ऋषिकेश, रामनगर, उत्तरकाशी, चमोली, पिथौरागढ़ समेत अन्य साहसिक पर्यटन गंतव्यों के हित धारकों और टूर ऑपरेटर्स को फायदा मिलेगा। उन्होंने कहा कि सरकार का मकसद साहसिक पर्यटन के क्षेत्र में अवस्थापना विकास पर जोर देते हुए स्थानीय युवाओं को आर्थिक रूप से मजबूती प्रदान करना है। उन्होंने राफ्टिंग, पैराग्लाइडिंग, माउंटनेयरिग, ट्रैकिंग समेत अन्य क्षेत्रों से जुड़ी संस्थाओं से समिट में शिरकत करने का आह्वान किया।

उधर, पर्यटन मुख्यालय में फिक्की व एटीओएआइ के प्रतिनिधियों से बैठक के बाद सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर ने बताया कि एडवेंचर उपकरणों के लिए आदर्श बाजार बनने की योग्यता उत्तराखंड रखता है। इसी क्रम में देश-विदेश के निवेशकों, उद्यमियों, पर्यटन व्यवसायियों को साहसिक गतिविधियों की अपार संभावनाओं को साकार करने को आमंत्रित किया जा रहा है। समिट में राज्य में साहसिक पर्यटन से संबंधित निवेश योग्य प्रोजेक्ट के बारे में उद्यमियों को जानकारी दी जाएगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस