जागरण संवाददाता, देहरादून : प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत दुर्बल आय वर्ग के लिए ट्रांसपोर्ट नगर में बने घर आवंटित हो गए हैं। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने 221 परिवारों को आवंटन पत्र सौंपते हुए नए घर की शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा कि इस होली पर उन्हें घर तोहफे के रूप में मिला है। ऐसे में होली के पर्व पर मुख्यमंत्री ने स्वयं उनकी इस खुशी में शामिल होने का भरोसा दिया। उन्होंने कहा कि 2022 तक नए भारत के सपने को साकार करने में यह कदम मील का पत्थर साबित होगा।

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत एमडीडीए ने ट्रांसपोर्ट नगर में ईडब्ल्यूएस यानि दुर्बल आय वर्ग के लिए 224 तथा एलआइजी के 144 घर बनाए हैं। मंगलवार को नगर निगम में हुए कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने निर्बल आय वर्ग के 221 घरों का आवंटन पत्र लॉटरी से चयनित गरीब परिवारों सौंपे। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जो नए भारत के सपने देखे हैं, वह साकार होते दिख रहे हैं। उत्तराखंड में इसकी शुरूआत हो गई है। गरीबों को उनका हक मिलने लगा है। अब सरकार व गरीब लाभार्थियों के बीच बिचौलिए नहीं हैं। सरकार ने गरीबों, मजदूरों, बेरोजगार और किसानों के लिए जो योजनाएं शुरू की हैं, उसका वह लाभ उठाएं।

इससे पहले हरिद्वार सांसद डॉ.रमेश पोखरियाल निशंक ने सीएम के कार्यो की तारीफ कर कहा कि प्रदेश के अंतिम व्यक्ति तक विकास पहुंच रहा है। कहा कि पीएम से एक कदम आगे बढ़कर सीएम ने आयुष्मान योजना का लाभ प्रदेश के सभी लोगों को दिलाया है। इस अवसर पर महापौर सुनील उनियाल गामा ने गरीब और आम जनता के लिए सरकार की योजनाओं की जानकारी दी। एमडीडीए के वीसी डॉ. आशीष श्रीवास्तव ने कहा कि भ्रष्टाचार पर रोक लगाने के लिए डिजिटल पर जोर दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश का यह पहला आवासीय प्रोजेक्ट है, जिसमें एक साथ 221 लोगों को लाभ मिला है। कार्यक्रम में राजपुर रोड विधायक खजानदास, गढ़वाल कमिश्नर बीवीआरसी पुरुषोत्तम, एमडीडीए के सचिव पीसी दुम्का, मनमोहन सिंह नेगी, भाजपा महानगर अध्यक्ष विनय गोयल आदि मौजूद रहे। झुग्गी में रहने वाले दुजईराम रहेंगे फ्लैट में

सिंघलमंडी कुसुमविहार में झुग्गी में रहने वाले दुजईराम दिव्यांग हैं। वह पिछले कई सालों से भिक्षावृत्ति से जीवनयापन कर रहे हैं। एमडीडीए ने तय मानक पूरे करने पर ट्रांसपोर्ट नगर में फ्लैट नंबर 003 उन्हें आवंटित किया है। दुजईराम ने कहा कि सपने में भी घर के बारे में नहीं सोचा था। अब घर मिला तो जीवन के सारे सपने पूरे हो गए हैं। ये है एक फ्लैट का बजट

दुर्बल आय वर्ग के इस फ्लैट की कीमत नौ लाख रुपये रखी गई है। इसमें तीन लाख एमडीडीए, डेढ़ लाख रुपये केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत, एक लाख रुपये उत्तराखंड जन आवास योजना से अनुदान दिया गया है। बाकी साढ़े तीन लाख रुपये लाभार्थियों को देने हैं। इसमें प्रथम किश्त के रूप में 35 हजार रुपये जमा हुए हैं। बाकी रकम बैंक फाइनेंस या फिर एमडीडीए में नकद जमा कराई जा सकती है। देश के प्रोजेक्ट कैलेंडर में शामिल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ट्रांसपोर्टनगर स्थित एमडीडीए के इस आवासीय प्रोजेक्ट की तारीफ की थी। देश के पांच राज्यों के सबसे बेहतर आवासीय प्रोजेक्ट प्रधानमंत्री आवास योजना के वार्षिक कैलेंडर में शामिल हुए। इसमें देहरादून का ट्रांसपोर्ट नगर का प्रोजेक्ट भी शामिल है। सोसायटी करेगी संचालन

आवंटन के बाद यहां रहने वाले लोगों के बीच एक सोसायटी बनाई जाएगी। यह सोसायटी फ्लैटों की साफ-सफाई, सुरक्षा, पानी, सीवर, बिजली, पार्किग जैसी व्यवस्थाओं का संचालन करेगी। इसके लिए वन टाइम शुल्क करीब 15 हजार रुपये लिया जाएगा। सीएम बोले, अखबार जरूर पढ़ें

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने आवास आवंटन कार्यक्रम में शामिल हुए लोगों से कहा कि जब भी समय मिले, अखबार जरूर पढ़ें। यदि पढ़ना नहीं आता तो बच्चों से या फिर दूसरों से पढ़वाएं। सरकार की योजनाओं के बारे में पूछें। उन्होंने कहा कि सरकार की हर योजनाएं अखबारों में विस्तृत रूप से आती हैं। इसके अलावा इंटरनेट पर भी सरकारी योजनाओं की जानकारी ली जा सकती है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप