जागरण संवाददाता, देहरादून।  Uttarakhand Coronavirus Update कोरोना संक्रमण के लिहाज से उत्तराखंड में हालात बिगड़ते जा रहे हैं। मंगलवार को भी यहां कोरोना की स्थिति विस्फोटक रही। प्रदेश में कोरोना संक्रमण के 2127 नए मामले मिले हैं। राज्य में साढ़े सात माह में एक दिन में आए ये सर्वाधिक मामले हैं। इससे पहले, गत वर्ष 27 मई को 2146 लोग संक्रमित मिले थे। इधर, दून मेडिकल कालेज चिकित्सालय में एक मरीज की मौत भी हुई है।

उत्‍तराखंड में कोरोना संक्रमण दर पहुंची 9.71 प्रतिशत

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार से 21 हजार 915 सैंपल की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई है। इनमें 19 हजार 788 सैंपल की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कोरोना संक्रमण दर 9.71 प्रतिशत पहुंच गई है। सभी तेरह जिलों में कोरोना के मामले मिले हैं। देहरादून में सबसे अधिक 991 लोग कोरोना संक्रमित मिले हैं। इसके अलावा नैनीताल में 451, हरिद्वार में 259, ऊधमसिंहनगर में 189, पौड़ी में 48, अल्मोड़ा में 43, टिहरी में 35, पिथौरागढ़ में 30, चंपावत में 26, चमोली में 25, रुद्रप्रयाग व उत्तरकाशी में 13-13 और बागेश्वर में चार लोग संक्रमित मिले हैं। इधर, विभिन्न जिलों से 25 हजार 371 सैंपल कोरोना जांच को भेजे गए हैं।

उत्‍तराखंड में अब तक आए कोरोना के 354304 मामले

बता दें, राज्य में अब तक कोरोना के 354304 मामले आए हैं। जिनमें 333365 (94.09 प्रतिशत) लोग कोरोना को मात दे चुके हैं। कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या साढ़े छह हजार से अधिक यानी 6603 तक पहुंच गई है। देहरादून में सबसे अधिक 2166 सक्रिय मामले आए हैं। इसके अलावा नैनीताल में 1606, हरिद्वार में 1420 और ऊधमसिंहनगर में 623 सक्रिय मामले हैं। कोरोना संक्रमण से अब तक राज्य में 7430 मरीजों की मौत भी हो चुकी है।

उत्‍तराखंड में सक्रिय मामले साढ़े छह हजार के पार

राज्य में कोरोना के सक्रिय मामले बढ़कर 6603 तक पहुंच गए हैं। इससे अस्पतालों पर भी दबाव बढ़ रहा है। देहरादून जिले में कोरोना के सबसे अधिक 2166 सक्रिय मामले हैं। इसके अलावा हरिद्वार में 1420, नैनीताल में 1606 व ऊधमसिंह नगर में 632 कोरोना के सक्रिय मरीज हैं।

18 हजार 165 को व्यक्तियों को लगी  प्रिकाशन डोज

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए प्रिकाशन लगाई जा रही है। अन्य राज्यों की तरह उत्तराखंड में भी इसकी शुरुआत गत दिवस हुई थी। एहतियात के तौर पर कोरोनारोधी टीके की प्रिकाशन डोज फ्रंटलाइन वर्कर, स्वास्थ्य कर्मियों व साठ साल से अधिक उम्र के लोग को लगाई जा रही है। दूसरे दिन राज्य में 18 हजार 165 लोग को प्रिकाशन डोज लगी है। इनमें अधिक संख्या स्वास्थ्य कर्मियों की रही। साठ साल से अधिक उम्र के भी कई लोग टीकाकरण केंद्रों पर प्रिकाशन डोज लगाने के लिए पहुंचे। इस तरह दो दिन में 29 हजार 784 व्यक्तियों को प्रिकाशन डोज लग चुकी है। इधर, 15 से 17 साल उम्र के किशोरों का टीकाकरण भी तेजी से आगे बढ़ रहा है। राज्य में आठ दिन में 321668 किशोरों को कोरोनारोधी टीका लग चुका है।

83 और व्यक्तियों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि

रुड़की मेंकोरोना संक्रमण का प्रकोप जारी है। मंगलवार को 83 और व्यक्तियों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इनमें सबसे ज्यादा मरीज आइआइटी रुड़की से हैं। 13 कोरोना संक्रमित मरीज अकेले आइआइटी रुड़की परिसर से हैं। वहीं गांधीनगर में छह व्यक्तियों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की ओर से किये जा रहे प्रयास सफल नहीं हो पा रहे हैं। रुड़की क्षेत्र में लगातार कोरोना संक्रमित मरीज मिल रहे हैं।

मंगलवार को आई रिपोर्ट में रुड़की क्षेत्र में 83 कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। इन मरीजों आइआइटी रुड़की, गांधी नगर, सिविल अस्पताल परिसर, सिविल लाइंस, पुरानी तहसील, राजपूताना, एनआइएच कालोनी, सीबीआरआइ, डोगरा लाइन सहित विभिन्न मोहल्लों में कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। सिविल अस्पताल रुड़की के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. संजय कंसल ने बताया कि कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। इसलिए सभी अनिवार्य रूप से कोविड गाइड लाइन का पालन करें। घर से अनावश्यक रुप से बाहर न निकले।

यह भी पढ़ें:-त्‍तराखंड में आज आए कोरोना के 1292 नए मामले, एक्‍टिव केस पहुंचे पांच हजार पार

Edited By: Sunil Negi