जागरण टीम, देहरादून: कुमाऊं में बारिश ने भले ही राहत दी हो, लेकिन सड़कें बंद होने से जनजीवन प्रभावित है। गढ़वाल मंडल के पर्वतीय क्षेत्रों में देर रात भारी बारिश से जगह-जगह भूस्खलन हुआ। इससे चमोली में बदरीनाथ हाईवे कई जगह अवरुद्ध हो गया। हालांकि, सीमा सड़क संगठन की टीम ने दोपहर बाद सभी स्थानों से मलबा हटाकर आवाजाही बहाल कर दी। गौरीकुंड के पास बांसवाड़ा में केदारनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर भी मलबे के कारण यातायात चार घंटे बाधित रहा। गढ़वाल और कुमाऊं में अब भी 30 से ज्यादा मोटर मार्ग मलबा आने से बाधित हैं।दूसरी और मौसम विभाग ने शनिवार के लिए देहरादून समेत प्रदेश के आठ जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।

उत्तराखंड में बारिश और भूस्खलन का क्रम जारी है। शुक्रवार को टिहरी जिले में गंगोत्री हाईवे मलबा आने से बंद हो गया। इसके कारण टिहरी के जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल और पुलिस अधीक्षक डॉ. योगेंद्र सिंह रावत भी वहां फंस गए। बाद में दोनों अफसरों को पैदल ही आधा किलोमीटर की दूरी तय करनी पड़ी। इसके बाद वे दूसरे वाहन से मुनिकीरेती जा पाए। हालांकि करीब दो घटे बाद मलबा हटाकर आवाजाही शुरू कर दी गई।

कुमाऊं के पिथौरागढ़ जिले के आपदा प्रभावित धारचूला में बारिश के कारण दारमा-व्यास सड़क बाधित हो गई। ऐसे में क्षेत्र में फंसे नागरिकों को निकालने के लिए तहसील प्रशासन ने हेलीकॉप्टर की मांग की है। वहीं, बागेश्वर में शनिवार रात से शुक्रवार सुबह तक झमाझम बारिश हुई। इससे सरयू का जलस्तर बढ़ गया।

मौसम विभाग के अनुसार शनिवार और रविवार के लिए प्रदेश में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। इस दौरान पिथौरागढ़, बागेश्वर, नैनीताल, चमोली, रुद्रप्रयाग पौड़ी उत्तरकाशी के साथ ही देहरादून में भी कहीं-कहीं भारी बारिश हो सकती है।

---------

विभिन्न शहरों में तापमान

शहर, अधि. न्यून.

देहरादून 32.8 26.0

उत्तरकाशी 26.7 20.2

मसूरी 25.7 18.5

टिहरी 25.2 19.6

हरिद्वार 34.7 27.3

जोशीमठ 24.6 17.4

पिथौरागढ़ 28.3 20.2

अल्मोड़ा 29.2 20.5

मुक्तेश्वर 21.5 15.8

नैनीताल 22.6 18.0

यूएसनगर 35.2 28.0

चम्पावत 28.5 20.7

------

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस