संवाद सहयोगी, विकासनगर: तहसील मुख्यालय से एक किमी. दूर बाबूगढ़ पंचायत के एक हजार बा¨शदों के साथ ही सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज में अध्ययनरत बारह सौ छात्र-छात्राओं को आवागमन की सुविधा देने वाला संपर्क मार्ग तीन वर्ष से सुधारीकरण की बाट जो रहा है। खस्ताहाल मार्ग की स्थिति यह है कि हल्की सी बारिश होने पर भी यहां पानी और कीचड़ भर जाता है। जिसके चलते इस मार्ग से गुजरने वालों को परेशानी झेलनी पड़ती है। साथ ही मार्ग पर पड़े गड्ढे दुपहिया वाहन चालकों के लिए दुर्घटना का कारण साबित हो रहे हैं।

राष्ट्रीय राजमार्ग से लगी बाबूगढ़ पंचायत को एनएच से जोड़ने वाला संपर्क मार्ग बुरी स्थिति में है। सड़क पर मरम्मत कार्य नहीं होने से उसमें बड़े गड्ढे पड़ गए हैं। पानी की निकासी व्यवस्था नहीं होने से यहां अक्सर पानी और कीचड़ जमा रहता है। सोमवार देर रात से शुरू हुई बारिश में ही मार्ग की हालत ऐसी हो गई कि उसमें चलना खतरे से खाली नहीं है। कीचड़ में चलने से कोई भी फिसल सकता है। एक हजार से अधिक आबादी को आवागमन की सुविधा देने के साथ ही यह मार्ग सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कॉलेज को जाने वाला एकमात्र मार्ग है। जिससे हर रोज बारह सौ छात्र-छात्राएं आवागमन करते हैं। स्थानीय बा¨शदों व छात्र-छात्राओं के लिए इस मार्ग पर चलना किसी चुनौती से कम नहीं रहता है। लेकिन उनके पास कोई वैकल्पिक मार्ग नहीं है। उधर, ग्राम प्रधान करम चंद ने बताया कि मार्ग सुधारीकरण के लिए मनरेगा के तहत प्रस्ताव ब्लॉक मुख्यालय को भेजा गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस