संस, टनकपुर : मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत द्वारा कुंभ की भांति पूर्णागिरि मेले में आने-जाने वाली महिला तीर्थ यात्रियों के लिए रोडवेज की बसों में निश्शुल्क यात्रा की सुविधा दिए जाने को महिलाओं ने सराहनीय कदम बताया है। टनकपुर की महिलाओं का कहना है कि राज्य सरकार के इस फैसले से मातृ शक्ति को सम्मान मिला है।

उत्तर भारत के प्रसिद्ध मा पूर्णागिरि मेले का आगाज 30 मार्च को हो चुका है। मेले में उत्तराखंड और उप्र के विभिन्न जिलों से श्रद्धालु पहुंच रहे हैं। इनमें महिला श्रद्धालुओं की संख्या भी काफी अधिक है। मेले में उत्तराखंड की महिला तीर्थ यात्रियों के लिए परिवहन निगम की बसों में निश्शुल्क यात्रा की सुविधा दी गई है। सरकार के इस निर्णय से मा पूर्णागिरि धाम में देहरादून, हरिद्वार, नैनीताल, रामनगर, अल्मोड़ा, ऊधमसिंह नगर, पिथौरागढ़, चम्पावत आदि जिलों से आनी वाली महिला श्रद्धालुओं का काफी अधिक सहूलियत मिलेगी। यह सुविधा उनको ठूलीगाड़ मेला क्षेत्र तक ही मुहैया कराई जाएगी। एआरएम केएस राणा का कहना है कि महिला तीर्थ यात्रियों के लिए फ्री यात्रा आदेश अभी उन्हें नहीं मिला है। आदेश मिलने पर अमल किया जाएगा। -------------

पूर्णागिरि मेले के दौरान रोडवेज की बसों से महिलाओं को निश्शुल्क यात्रा कराने का सरकार का निर्णय सराहनीय है। इससे मेले में आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या भी बढ़ेगी।

-उर्मिला चंद, जिपं सदस्य, टनकपुर

--------- रोडवेज की बसों में महिलाओं का टिकट फ्री करना महिलाओं का सम्मान है। यह मातृ शक्ति को सम्मान देने के बराबर है। सरकार को जल्द ही परिवहन निगम को इसके आदेश जारी कर देने चाहिए।

-आभा सिंह, पूर्व जिपं सदस्य, टनकपुर

-------- मुख्यमंत्री द्वारा पूर्णागिरि और कुंभ मेले के दौरान परिवहन निगम की बसों में महिलाओं को दी गई यह सुविधा काबिले तारीफ है। सरकार द्वारा रक्षा बंधन के दिन भी बहनों को यह सुविधा दी जाती है। इससे महिलाओं को काफी अधिक लाभ मिलेगा।

-पुष्पा यादव, प्रबंधक ग्रामीण बैंक, टनकपुर

--------- सरकार के इस निर्णय से गांवों से मां पूर्णागिरि के दर्शन के लिए आने वाली गरीब तबके की महिलाओं को सीधा लाभ मिलेगा। यह निर्णय काफी अच्छा है। इस व्यवस्था को जल्द से जल्द लागू कर देना चाहिए। -सुनीता चंद, प्रधानाचार्य, एमडीएम स्कूल टनकपुर

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021