जागरण संवाददाता, लोहाघाट : Murder in Champawat : एक सप्ताह से लापता बिसारी गांव के युवक का शव पुलिस ने पाटी से बरामद कर लिया है। स्वजनों ने हत्या की आशंका जताई है। संदेह के आधार पर पुलिस ने तीन लोगों को हिरासत में ले लिया है। शव मिलने के बाद ग्रामीण भड़क गए और हिरासत में लिए गए लोगों पीट दिया।

24 सितंबर को हुआ था लापता

पाटी विकास खंड के बिसारी गांव निवासी 28 वर्षीय मोहित पचौली पुत्र नवीन पचौली 24 सितंबर से लापता था। शनिवार की सुबह उसका शव पाटी के रामलीला मैदान और वन विभाग कार्यालय के बीच बने एक अवैध टिनसेट से बरामद किया गया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेने के बाद जांच शुरू कर दी है।

तीन लाेग पुलिस की हिरासत में

मोहित के लापता होने के बाद 28 सितंबर को स्वजनों ने थाना पाटी में गुमशुदगी दर्ज कराई गई थी। तब से पुलिस मामले को लेकर कुछ लोगों से गहन पूछताछ कर रही थी। इस मामले में शनिवार को पुलिस ने तीन लोगों को संदेह के आधार पर हिरासत में ले लिया है।

जुए के पैसों को लेकर हत्या की आशंका

इधर शव बरामद होने की जानकारी के बाद पुलिस अधीक्षक देवेन्द्र पींचा भी मौके पर पहुंचे। युवक के स्वजनों एवं स्थानीय लोगों ने हत्या की आशंका जताते हुए एसपी से मामले की जांच कर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की। आशंका है जताई जा रही है कि जुए के पैसों को लेकर उपजे विवाद के बाद युवक की हत्या की गई है। हालांकि अभी पुलिस मामले की जांच कर रही है। जांच के बाद ही घटना का पर्दाफाश होगा।

माता-पिता ने इकलौता बेटा खोया, बहनों ने भाई

मोहित अपने माता पिता का इकलौता बेटा था। मृतक की दो बड़ी बहनें हैं। पिता नवीन पचौली बिसारी गांव में दुकान चलाते हैं। मोहित का शव मिलने के बाद ग्रामीणों में आक्रोश पैदा हो गया है। शनिवार को पुलिस द्वारा हिरासत में लिए गए तीन लोगों पर स्थानीय लोगों ने पुलिस कस्टडी में ही हाथापाई शुरू कर दी। बमुश्किल पुलिस ने तीनों युवकों को बचाया। इस घटना से युवक के घर में मातम पसर गया है। पूरा गांव भी शोक की लहर में डूबा हुआ है।

Edited By: Rajesh Verma

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट