मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

संवाद सहयोगी, गोपेश्वर: लोकसभा चुनाव को शांतिपूर्ण ढंग से संपन्न कराने के लिए सुरक्षा बल मुस्तैद हो गया है। जिलाधिकारी, जिला निर्वाचन अधिकारी स्वाति एस भदौरिया एवं पुलिस अधीक्षक यशवंत सिंह चौहान ने सुरक्षा बलों को ब्रीफ करते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिए , लोकसभा चुनाव को शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिए आइटीबीपी, सीआरपीएफ, पुलिस, होमागार्ड तथा पीआरडी सहित लगभग 1900 कार्मिकों की तैनाती की गई है।

जिलाधिकारी ने सुरक्षा बलों को बताया कि हमारी प्राथमिकता स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव संपन्न कराना है। इसलिए सभी सुरक्षा बल व्यवहार से मतदाता फ्रेंडली बनकर भयमुक्त वातावरण में निष्पक्षता से चुनाव संपन्न करने में अपना योगदान करें। इस दौरान जोनल व सैक्टर पुलिस अधिकारियों को आपस में समन्वय बनाए रखने एवं सूचनाओं का तत्काल आदान प्रदान करने, चुनाव से 48 घंटे पूर्व क्षेत्र में किसी प्रकार का प्रचार ना हो एवं आदर्श आचार संहिता का पूर्ण रूप से पालन हो, आचार संहिता के उल्लंघन करने वालों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए। एसपी यशवंत सिंह चौहान ने कहा कि सुरक्षा बलों को संदिग्ध गतिविधियों पर पैनी नजर रखते हुए निर्वाचन के दौरान पूरी चौकसी रखने के निर्देश भी दिए।

पोलिग पार्टियों को मतदेय स्थल तक पहुॅचाने के लिए 82 बसें व 262 छोटे वाहन बुलेरों मैक्स लगाई गई है तथा 36 बसें व 57 छोटे वाहनों को रिजर्व में रखा गया है। वितरण केन्द्रों तक मतदान सामग्री पहुॅचाने के लिए 12 ट्रक भी लगाए गए है। इसके अतिरिक्त 120 प्राइवेट व सरकारी छोटे वाहन जोनल व सैक्टर मजिस्ट्रेट के साथ पहले से ही निर्वाचन ड्यूटी पर लगे है। इस दौरान अपर जिला निर्वाचन अधिकारी हसांदत्त पांडे एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी एमएस बर्निया, सीओ पुलिस मिथलेस कुमार, सीओ पुरूषोत्त जोशी, एसओ दीपक रावत भी मौजूद थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप