जागरण संवाददाता, बागेश्वर: उत्तर दुग जलमानी, भूलगांव में गुलदार का आतंक छाया हुआ है। बीती बुधवार की रात गुलदार एक व्यक्ति के आंगन में धमक गया और जिससे पूरे गांव के लोग दहशत में आ गए। वन विभाग की टीम गांव में मुस्तैद होने से लोगों ने राहत की सांस ली। गुलदार की लगातार धमक से वन विभाग ने गांव में एक और पिजड़ा लगा दिया है और अब पिजड़ों की संख्या तीन हो गई है। वहीं गश्त करने वाली टीमों में भी इजाफा हुआ है तीन के सापेक्ष चार टीमें दिनरात गांव में डटी हुई हैं।

बतादें कि चार अक्टूबर को गांव के पांच साल की दिया को गुलदार ने मार दिया था। जब से गांव के लोग लगातार गुलदार को नरभक्षी घोषित करने की मांग कर रहे हैं, लेकिन अभी तक शासन से कोई कार्रवाई नहीं हो सकी है।

========

ट्रैप कैमरे की निगरानी में रहेगा गुलदार

बागेश्वर: उत्तर दुग भूलगांव में दहशत का पर्याय बना गुलदार अब ट्रैप कैमरे की नजर में रहेगा। वन विभाग ने जंगल में दो ट्रैप कैमरे लगाए हैं। आरओ नारायण दत्त पांडे ने बताया कि गुलदार ट्रैप कैमरे की जद में है और उसे कैमरे ने कैद भी किया है, लेकिन वह पिजड़े में नहीं घुसा। उन्होंने कहा कि गुलदार को जल्द पिजड़े में कैद कर लिया जाएगा जिसके लिए तीन पिजड़े लगा दिए गए हैं। वन विभाग की चार टीमें गांव में गश्त कर रही है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप