जागरण संवाददाता, बागेश्वर : दुग नाकुरी क्षेत्र में ओलावृष्टि से धान की फसल चौपट हो गई है। किसान परेशान हो गए हैं। उन्होंने कृषि विभाग से फसल का निरीक्षण कर मुआवजे की मांग की है। बरसात थमने के बाद मौसम पूरी तरह खुल गया है और चटक धूप निकल रही है। वहीं एकाएक मौसम खराब होने से सोमवार की देर शाम दुग नाकुरी के जारती, पपोली, उड़ियार, जुनायल आदि गांवों में भयंकर ओलावृष्टि हुई। जिससे किसानों की धान की फसल पूरी तरह बर्बाद हो गई है। किसान प्रताप ¨सह मेहता ने बताया कि दुग नाकुरी क्षेत्र में धान की फसल पूरी तरह तैयार हो गई थी और कई स्थानों पर धान को बाली लग रही थी। उन्होंने कहा कि ओलावृष्टि से धान की खेती पूरी तरह बर्बाद हो गई है। उन्होंने कहा कि करीब दस हजार नाली से अधिक में धान को नुकसान हुआ है। किसान देव ¨सह, पार्वती देवी, उदुली देवी, कमला देवी, सरस्वती देवी, गुमान ¨सह आदि कृषि विभाग ने फसल का निरीक्षण करने और मुआवजा देने की मांग की है। इधर मुख्य कृषि अधिकारी वीके मौर्य ने कहा कि नुकसान का जायजा लिया जाएगा। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत बीमित किसानों को लाभ दिया जा सकेगा।

Posted By: Jagran