जागरण संवाददाता, बागेश्वर: शहरों में बढ़ते प्रदूषण को लेकर केरला का एक युवक लोगों को पर्यावरण संरक्षण और संवर्धन के लिए प्रेरित कर रहा है। वे 22 सितंबर से बाइक से भारत के तमाम शहरों तक पहुंचे हैं और भूटान तक उनका लक्ष्य है। केरला के कुच्छी गांव निवासी 42 साल के क्रिष्टी रोडर गॉज मंगलवार को बागेश्वर पहुंचे। उनका माउंटेनियरों ने भव्य स्वागत किया। एक मुलाकात में उन्होंने कहा कि वे 22 सितंबर 2019 से बाइक यात्रा पर हैं। हरी-भरी धरती के मिशन पर निकले हैं। शहरों में वायु प्रदूषण बढ़ रहा है और लोगों की औसतन आयु घट रही है। यह पूरे विश्व के लिए चितनीय विषय है। ग्लोबल वाíमंग के चलते मौसम परिर्वतन हो रहा है। केरल में इस साल पूरे आठ माह तक बारिश रही और देश के कई हिस्सों में पानी की बूंद-बूंद के लिए लोग तरस रहे। यह जीवन मिला है और इसे यदि सुरक्षित रखना है तो बढ़ रहे प्रदूषण को कम करने के लिए लोगों को अभी से संघर्ष करना होगा। वे पर्यावरण संरक्षण और संवर्धन के लिए यह यात्रा कर रहे हैं। अभी तक वे तमिलनाडू, कर्नाटक, आंध्रा, उड़ीसा, झारखंड, बिहार, यूपी, दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, जम्मू कश्मीर, हिमाचल, राजस्थान होते हुए उत्तराखंड पहुंचे हैं। कोची से नेपाल, बंग्लादेश भूटान, मेनवर्ग तक उनकी यात्रा का लक्ष्य है। क्रिष्टी कहते हैं कि नदी, जंगल सिमट रहे हैं और मानव सभ्यता के लिए यह खतरे की घंटी है। धरती का मौसम चक्र बिगड़ गया है और लोगों को जागरूक कर वे इस यात्रा को जारी रखे हुए हैं। वे मंगलवार की रात चौकोड़ी पहुंचेंगे और वहां से आगे की यात्रा तय करेंगे।

=========

केरला के युवक का संदेश

-हम भी प्रकृति हैं उसे दूसरा पराया न समझें -जीवन और रिश्तों को बनावटी न बनने दें उन्हें सहज बनाएं -भेंट स्वरूप केवल पौधे लें और दें -परिवार की हर वर्षगांठ पर वृक्ष लगाएं, अपने घर पर संभव नहीं हो तो कहीं भी जहां उनकी परवरिश हो सके -इसके अलावा सुंदर धरती को सब के लिए बेहतर बनाने के लिए जो भी कर सकते हैं करें, ताकि सभी आनंद से जी सकें

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप