जागरण संवाददाता, बागेश्वर: डुंगरगांव-मजबे सड़क नहीं बनने से ग्रामीण खफा हैं। उन्होंने राज्यपाल और भारत सरकार के पोर्टल में सड़क नहीं बनने की शिकायत की और जिसका केंद्र ने संज्ञान लिया है। अलबत्ता कारगिल शहीद रमेश सिंह परिहार के गांव तक सड़क पहुंचने की उम्मीद जगी है।

जिला मुख्यालय से लगे डुंगरगांव-मजबे सड़क कई सालों से पूरी नहीं हो पाई है। ग्रामीणों ने इसकी शिकायत जिला प्रशासन, शासन, राज्यपाल तथा भारत सरकार तक कर दी है। इस मामले में अब केंद्र सरकार ने संज्ञान ले लिया है। सरकार ने प्रदेश सरकार को पत्र लिखकर इस पर कार्रवाई के निर्देश दे दिए हैं। ग्रामीणों को अब जल्द सड़क सुविधा की उम्मीद जगने लगी है। मालूम हो कि डुंगरगांव-मजबे मोटर मार्ग कारगिल शहीद रमेश सिंह परिहार के नाम से स्वीकृत है। 12 साल बीत जाने के बाद भी सड़क का निर्माण आज तक पूरा नहीं हो पाया है। इसके लिए शहीद के परिवार के अलावा क्षेत्र के लोग अनशन तक कर चुके हैं। डुंगरगांव के भगवत सिंह परिहार ने इस समस्या को भारत सरकार के सम्मुख रखा था। अब सरकार ने इस पर संज्ञान ले लिया है। भारत सरकार के अंडर सेक्रेट्री अरुन कुमार के हस्ताक्षर से ग्रामीण विकास विभाग के प्रिसिपल सेक्रेट्री उत्तराखंड को पत्र जारी हुआ है। इसमें जल्द सड़क निर्माण करने तथा इसकी प्रगति रिपोर्ट उन्हें भेजने के निर्देश दिए गए हैं। इस पत्र के बाद क्षेत्र के लोगों को एक बार फिर सड़क सुविधा मिलने की उम्मीद जगने लगी है। ग्राम प्रधान ललित सिंह परिहार, हरीश सिंह परिहार, घनश्याम सिंह परिहार, पुष्पा परिहार आदि ने जल्द से जल्द सड़क को पूरा करने की मांग लोनिवि से की है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप