मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, बागेश्वर : 16 वर्ष से कम आयु वर्ग की बालिकाओं को राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर उत्कृष्ट प्रदर्शन करने के उद्देश्य से खेल प्रतिभा खोज का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें विभिन्न क्षेत्रों से 25 बालिकाएं प्रतिभाग कर रही है। प्रतिभावन खिलाड़ियों की स्कीम के तहत बालिकाओं को खेलों के लिए तैयार किया जा रहा और स्पोट्रर्स कॉलेजों में चयन के लिए उन्हें प्रशिक्षित किया जा रहा है।

नुमाइशखेत मैदान में आयोजित दस दिवसीय खेल प्रतिभा खोज में जिलाधिकारी ने अंटाइड फंड से धन आवंटित किया है। विभिन्न खेलों के आवासीय बालिका छात्रावासों में जनपद के सुदूरवर्ती क्षेत्रों के प्रतिभावन खिलाड़ियों की कार्ययोजना जिलाधिकारी रंजना राजगुरु के सुझाव पर तैयार की गई है। शिक्षा विभा के समन्वय से जोन, जनपदीय एथलेटिक्स में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली बालिकाओं की चयनित सूची के अनुसार शिविर आयोजित किया गया है। यह शिविर 17 अप्रैल तक चलेगा। जिला खेल अधिकारी विनोद वल्दिया ने बताया कि बालिकाओं को बैट्री टेस्ट का अभ्यास कराया जा रहा है जिसके लिए दो योग्य प्रशिक्षकों नियुक्त किए गए हैं। खिलाड़ियों को आने-जाने का वास्तविक किराया, भोजन व्यवस्था, आवास व्यवस्था, अनुसांगिक व्यय, ट्रैकसूट, खेल किट एवं खेल प्रमाणपत्र भी प्रदान किए जाएंगे।

----------

इन बालिकाओं को दिया जा रहा प्रशिक्षण

ऊषा जोशी, शमी टम्टा, नेहा नेगी, निशा मेहता, निशा, अंजलि, शोभा, लता, लक्ष्मी, अंजली चौहान, पिकी, अनीता, आशा, कविता, गुंजन, अनीता, माया, डोली वर्मा, रीता, मुस्कान, ज्योति, कोमल जोशी, मिताली मेलवाल, गीता मेहता, गीतांजलि आदि शामिल रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप