संवाद सूत्र, गरुड़: तहसील के विद्युत संविदा कर्मी चार माह से बिना वेतन के काम कर रहे हैं। उन्होंने ठेकेदार पर वादाखिलाफी का आरोप लगाया है। चेतावनी देते हुए कहा कि उन्हें एक सप्ताह के भीतर वेतन नहीं दिया गया तो वे सामूहिक अवकाश पर चले जायेंगे।

विद्युत संविदा श्रमिक संघ के अध्यक्ष नारायण सिंह परिहार की अध्यक्षता में बैठक आयोजित हुई। बैठक में विद्युत कर्मियों ने कहा कि उन्हें बिना वेतन के काम करते हुए पांचवां महीना शुरु हो गया है। उन्होंने इस कोरोनाकाल में बेहतर कार्य किया है। लेकिन ठेकेदार उनके साथ वादाखिलाफी कर रहा है। आज तक ठेकेदार ने कर्मियों को न तो परिचय दिया, न ईपीएफ की सुविधा दी और न ही टूल किट दिया। उन्होंने आरोप लगाया कि ठेकेदारों द्वारा हमेशा उन्हें झूठे आश्वासन दिए जाते हैं। आक्रोशित संविदा कर्मियों ने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि एक सप्ताह के भीतर उनकी समस्या का समाधान नहीं किया गया तो वे सामूहिक अवकाश पर चले जायेंगे।

इस अवसर पर महामंत्री कैलाश लाल साह, प्रकाश राम, भुवन राम, चतुर सिंह, प्रेम बल्लभ, सुंदर सिंह, बलवंत सिंह, अनिल पंत, तारा दत्त शर्मा आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस