जागरण संवाददाता, बागेश्वर : रात को बारिश और दिन में चटक धूप ने उमस बढ़ा दी है। तेज धूप में निकलने से पहले लोगों को कई जतन करने पड़ रहे हैं। इससे दोपहर में नगर और कस्बाई इलाकों में सन्नाटा पसर रहा है। हालांकि पिछले 24 घंटे में कपकोट में 45 एमएम बारिश रिकार्ड की गई। इसके चलते सरयू का जलस्तर फिर बढ़ा गया है। वहीं रात हुई बारिश से शामा मोटर मार्ग पर पेड़ गिरने से वह यातायात के लिए बाधित हो गया है।

गुरुवार की रात हुई बारिश से शामा-मनुस्यारी मोटर मार्ग में एक पेड़ गिरकर सड़क के बीचोंबीच आ गया। दर्जन से अधिक वाहन रातभर फंसे रहे और शुक्रवार सुबह स्कूल जा रहे शिक्षक, टैक्सी चालक और राहगीरों ने सड़क से पेड़ को हटाया। बाद में लोनिवि ने जेसीबी भेजी और सड़क यातायात के लिए खुल सकी। बारिश से सड़कों पर अभी भी भारी मात्रा में मला आने की संभावना बनी हुई है। भनार के प्रधानाचार्य महिमन ऐठानी, गोविद कोरंगा, पप्पू लाल, गौरव, सोहन, दीपा कोरंगा ने बताया कि बारिश के कारण सड़कों पर चलना भी दूभर हो गया है। वहीं जिले में अभी भी दो सड़कें आवागमन के लिए पूरी तरह बंद हैं। इधर, सरयू में सिल्ट आने से शहर के कई हिस्सों में पेयजल की किल्लत शुरू हो गई है। लोग पीने के साफ पानी के लिए प्राकृतिक स्त्रोतों का रख कर रहे हैं।

---------

कहां कितनी बारिश

बागेश्वर-5 एमएम, कपकोट-45 एमएम

----------

नदियों का जलस्तर

सरयू-866.30, गोमती-863.10, बैजनाथ बैराज-1112.20मीटर

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप