जागणर संवाददाता, बागेश्वर: प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत जिला टास्क फोर्स कमेटी की बैठक आयोजित की गई। जिसमें 4.21 करोड़ रुपये के ऋण को मंजूरी दी गई। 119 आवेदक साक्षात्कार में शामिल हुए। जिलाधिकारी ने ऋण का सदपयोग करने के निर्देश आवेदकों को दिए।

प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत जिला टास्क फोर्स कमेटी ऋण वितरण को आयोजित बैठक डीएम की अध्यक्षता में संपन्न हुई। आवेदकों का बारी-बारी साक्षात्कार किया गया। खादी ग्रामोद्योग बोर्ड में उद्योग स्थापित करने के लिए 76 आवेदन प्राप्त हुए। वहीं 59 ने साक्षात्कार में भाग लिया। दो करोड़ 19 लाख रुपये की धनराशि स्वीकृति प्रदान की। खादी ग्रामोद्योग आयोग में 9 आवेदन पत्र में तीन आवेदकों को उद्योग स्थापित कराने को 12 लाख रुपये स्वीकृत किए गए। उद्योग विभाग में 70 आवेदन में 51 के लिए एक करोड़ 90 लाख रुपये की धनराशि स्वीकृत की गई। जिलाधिकारी रंजना राजगुरु ने कहा कि प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम युवाओं के भविष्य को संवारेगा। जिस काम के लिए ऋण लिया जा रहा है, उस पर धनराशि व्यय करेंगे। आटा चक्की, स्टील फेबिर्केशन, टेंट हाउस, होटल, ढाबा, सोलर स्ट्रीट लाइट आदि के लिए स्वरोजगार को ऋण स्वीकृति प्रदान की गई है। इस मौके पर डीडीओ केएन तिवारी, जिला समाज कल्याण अधिकारी एनएस गस्याल, लीड बैंक अधिकारी रुद्र सिंह रावत, महाप्रबंधक उद्योग बीसी चौधरी, मुख्य प्रबंधक एसबीआई हिमांशु प्रकाश, उत्तराखंड ग्रामीण बैंक जगदीश प्रसाद, केएस कम्र्याल आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस