जागरण संवाददाता, बागेश्वर : राजकीय प्राथमिक स्कूल तुनेड़ा के सहायक शिक्षक का तबादला होने से अभिभावक खफा हैं। उन्होंने करीब 15 बच्चों को प्राइवेट स्कूलों में शिफ्ट कर दिया है। सरकारी स्कूल में अब सिर्फ 18 छात्र-छात्राएं हैं। एकल शिक्षक होने से उनका पठन- पाठन भी प्रभावित हो गया है।

विद्यालय प्रबंधन समिति के सुंदर ¨सह के नेतृत्व में अभिभावकों ने जिलाधिकारी को ज्ञापन दिया है। उन्होंने बताया कि स्कूल के सहायक अध्यापक का तबादला हो गया है। उन्होंने बताया कि 2010 में यहां पांच बच्चे पढ़ रहे थे। वर्तमान में 18 बच्चे अध्यनरत हैं। शिक्षक नहीं होने से गांव के 15 बच्चे प्राइवेट स्कूल में पढ़ने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि एक शिक्षक होने के कारण बच्चे लगातार स्कूल छोड़ने को मजबूर हैं। उन्होंने कहा कि सहायक अध्यापक को शीघ्र वापस भेजा जाए। उन्होंने कहा कि 1990 में स्कूल की स्थापना हुई। तब 50 छात्र-छात्राएं यहां पढ़ते थे। दुर्गम का स्कूल होने के कारण यहां शिक्षकों का भारी टोटा पड़ गया है। इस मौके पर हरीश ¨सह, राजेंद्र ¨सह, जीत ¨सह, प्रकाश ¨सह, ललित देवी, दीपा देवी, हेमा देवी, रेखा देवी, चंपा देवी, ललिता देवी, नंदी देवी आदि मौजूद थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप