अल्मोड़ा, जेएनएन : प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल से अलग होकर देवभूमि व्यापार मंडल खड़ा करने के बाद उठा बवंडर थम नहीं रहा। प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल ने तीन व्यापारियों को छह वर्ष के लिए निष्कासित करने के साथ ही हमले तेज कर दिए हैं। तंज कसा कि जो संगठन खुद के अस्तित्व के लिए जूझ रहा हो। वह व्यापारी हितों की सुरक्षा कैसे करेगा। तीखा कटाक्ष किया कि दीपेश जोशी नगर कार्यकारिणी के चुनाव में अपनी हार स्वीकार नहीं कर पा रहे। नए संगठन में पद लेकर उन्होंने साफ कर दिया कि व्यापारी हितों से ज्यादा वह खुद के हित को महत्व देते हैं।

प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल के प्रदेश, जिला व नगर पदाधिकारियों ने गुरुवार को प्रेसवार्ता बुलाई। जिलाध्यक्ष हरेंद्र वर्मा ने कहा जिले में 35 वर्षो से संगठन की 32 इकाइयां सक्रिय हैं। जबकि दूसरा संगठन तीसरी इकाई के लिए जूझ रहा। खुद के हितों की पूर्ति के लिए ही तीन व्यापारियों ने नए संगठन में पद लेना ठीक समझा। इसमें स्वार्थ ही झलक रहा है। वर्मा ने यह भी कहा कि हम अब सुलह चाह रहे हैं। बड़ा संगठन होने के कारण विपक्षी खेमा वापस लौटेगा जरूर। इधर, प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल ने सक्रियता भी बढ़ा दी है।

===============

जिपं अध्यक्ष की किराया माफी सराहनीय

व्यापारी नेताओं ने नगर कार्यकारिणी के आग्रह पर कोरोना के मद्देनजर जिपं अध्यक्ष उमा सिंह बिष्ट के दुकानदारों का एक माह का किराया माफ करने को सराहनीय कदम बताया। नगर अध्यक्ष सुशील साह ने कहा, अब पालिका से व्यापारियों का किराया व टैक्स माफी की मांग करेंगे। कहा, नगर व ग्रामीण क्षेत्र के छोटे बड़े व्यापारियों की समस्याओं के निदान को सलाहकार नियुक्त किए गए हैं।

================

इन मुद्दों पर करेंगे संघर्ष

= सरकार कोरोनाकाल में व्यापारियों के पानी बिजली बिल माफ करे

= होटल रेस्तरां के टैक्स माफ हों

= सीएम स्वरोजगार योजना में छोटे व्यापारियों को लाभ दें

= लॉकडाउन में सहयोग, जनसेवा के लिए व्यापारियों को कोरोना योद्धा सम्मान मिले

==============

ये रहे मौजूद

प्रदेश उपाध्यक्ष किशन गुरुरानी व मनोज अरोड़ा, जिलाध्यक्ष संजय अग्रवाल, संयुक्त महामंत्री विनीत बिष्ट, मनोज सनवाल, कमल गुप्ता, नगर उपाध्यक्ष राजेंद्र प्रसाद, महामंत्री मयंक बिष्ट, कमल बिष्ट, शरद अग्रवाल, राकेश तिवारी, प्रतेश पांडे आदि थे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस