संवाद सहयोगी, रानीखेत : मेजर चित्रेश बिष्ट पीपली मंजूरखान मोटर मार्ग पर अब यात्रियों को हिचकोले नहीं खाने पड़ेंगे। इसके लिए शासन ने रोड में डामरीकरण के लिए करीब 3.83 करोड़ रुपया स्वीकृत कर दिया है। विभागीय अधिकारियों के अनुसार जल्द ही कार्य शुरू भी कर दिया जाएगा।

क्षेत्र के लोगों को सड़क मार्ग से जोड़ने के लिए वर्ष 2011 में करीब 1.83 करोड़ रुपए की लागत से पीपली मंजूरखान मोटर मार्ग का निर्माण किया गया। रोड कटिंग के बाद बजट उपलब्ध ना होने से डामरीकरण का कार्य रुक गया। तब से अब तक करीब सात वषरें से ग्रामीण कच्ची सड़क पर ही आवाजाही करने को मजबूर हैं। सड़क पर बने बड़े बड़े गड्ढों में कई बार दुर्घटनाएं भी घट चुकी हैं।

=============

शहीद का नाम मिलते ही जगी आस

श्रीनगर में आतंकी हमले में शहीद मेजर चित्रेश बिष्ट के पैतृक गाव को जोड़ने वाली इस सड़क को शहीद का नाम दे दिया गया। हरकत में आई सरकार ने मोटर मार्ग में करीब 7.30 किमी पर डामरीकरण के लिए 3.83 करोड़ रुपया स्वीकृत कर दिया है। डामरीकरण हो जाने के बाद अब गाव के लोगों को खस्ताहालत में पहुंच चुकी सड़क में आवाजाही से निजात मिल जाएगी।

===================

'डामरीकरण के लिए बजट मिल चुका है। टेंडर प्रक्रिया भी पूरी कर ली गई है। जल्द ही डामरीकरण का कार्य शुरु किया जाएगा। गुणवत्ता का विषय ध्यान रखेंगे।

- कुंदन बिष्ट, ईई लोनिवि'

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस