संवाद सहयोगी, रानीखेत : घिघारीखाल अल्मोड़ा हाईवे पर मजखाली के समीप पावर ट्रासमिशन कारपोरेशन (पिटकुल) के कर्मचारी के संदिग्ध हालत में चोटिल पड़े होने से हड़कंप मच गया। आनन-फानन में उसे आपातकालीन 108 सेवा से गोविंद सिंह माहरा नागरिक चिकित्सालय ले जाया गया। जहा से प्राथमिक उपचार के बाद उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है। कर्मचारी की हालत नाजुक बनी हुई है।

मामला हाईवे पर स्थित मजखाली के मल्ली रियूनी क्षेत्र का है। 132 केवी उप संस्थान नैनी में टेक्निशियन ग्रेड 2 के पद पर कार्यरत वरुण प्रकाश शर्मा निवासी अल्मोड़ा हाईवे किनारे संदिग्ध हालत में पड़ा मिला। उनके चेहरे व सिर पर गंभीर चोटों के निशान हैं। आनन फानन में स्थानीय ग्रामीणों ने कर्मचारी हाईवे किनारे घायल पड़े होने की सूचना सहायक अभियंता गोविंद सिंह नेगी व राजस्व उपनिरीक्षक रियूनी नितिन जिरवान को दी। वह अन्य कर्मचारियों के साथ घटना स्थल पर पहुंचे। स्थानीय पनी नाथ व पूर्व ज्येष्ठ उपप्रमुख महेंद्र सिंह बिष्ट, भूपाल अधिकारी व देवेंद्र सिंह की मदद से घायल को आपातकालीन 108 से गोविंद सिंह माहरा नागरिक ले जाया गया। गंभीर हालात को देखते हुए चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद हायर सेंटर रैफर कर दिया गया। वरुण हल्द्वानी स्थित निजी चिकित्सालय में जिंदगी और मौत से जूझ रहा है। कर्मचारियों के अनुसार वरुण अभी कौमा में है। तकनीशियन ग्रेड 2 के पद पर कार्यरत वरुण के साथ कोई दुर्घटना हुई है या फिर वह किसी साजिश का शिकार हुआ इस पर अभी संशय बना हुआ है।

===========

'अस्पताल से घटना की सूचना मिली। जब तक पुलिसकर्मी चिकित्सालय पहुंचे घायल को रेफर कर दिया गया था। अभी किसी ने कोई तहरीर नहीं दी है। तहरीर मिलने पर जांच की जाएंगी।

- बसंती आर्या, एसएसआइ रानीखेत कोतवाली

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस