संवाद सहयोगी, अल्मोड़ा : पंचायतराज के शीर्ष सदन जिला पंचायत की नवनिर्वाचित अध्यक्ष उमा सिंह बिष्ट को सीडीओ मनुज गोयल ने शपथ दिलाई। फिर जनपद की प्रथम महिला उमा सिंह ने सभी 45 सदस्यों को दलगत राजनीति से ऊपर उठ मिलकर काम करने की शपथ दिलाई। मुख्य अतिथि पूर्व सीएम हरीश रावत हरदा ने कहा, आज पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की आत्मा प्रसन्न हुई होगी जब अल्मोड़ा जिला पंचायत में दो तिहाई पढ़ी लिखी महिलाएं चुन कर आई हैं। लक्ष्मी से परिपूर्ण इस पंचायत में अब कल्याण ही कल्याण है।

जिला पंचायत भवन में रविवार को पूर्व सीएम हरदा ने कहा, त्रिस्तरीय पंचायती स्तंभ अब परिपक्व हो चुकी है। नवनिर्वाचित मुखिया के सामने चुनौती खूब हैं, इसलिए संतुलन बनाकर चलना होगा। वैसे भी मा में संतुलन बनाने का गुण ईश्वर प्रदत्त होता है। ===========

घर में भी कहें आदरणीय पूर्व विधायक एवं जिपं अध्यक्ष उमा सिंह के पति पूर्व विधायक मदन सिंह बिष्ट के भाषण बाद हरदा ने चुटकी ली। बोले कि मदन अब उमा जी को घर में भी आदरणीय कहने की आदत डाल लें। ================

हमने बजट दिया, अब सब गायब पूर्व सीएम हरदा ने कहा, अपने कार्यकाल में उन्होंने 3700 नई योजनाएं बनाई। हालांकि हम अमल नहीं कर पाए। इसलिए चुनाव हारे। हमने त्रिस्तरीय पंचायतों की मजबूती को बराबर धन आवंटन की नीति बनाई। 60 फीसद बजट हम देते थे। वॉटर स्कीम के लिए जिला पंचायत को 75 प्रतिशत धन हमने देना शुरू किया। अब सब गायब है। ===============

'महाराज मैं नि बैठुल, आब तुम्हें संभालिया..'

शपथ के बाद जिले की प्रथम महिला उमा सिंह के पति पूर्व विधायक मदन बिष्ट दबंग जनसेवक के रूप में नजर आए। बोले- अब नई सोच के साथ काम करना होगा। सदस्य किसी भी दल का हो, दरबार में आकर अपना हो जाता है। हम स्वाभिमान की सियासत करते हैं। ठस कुमाऊंनी में बोले- मंच जिला पंचायत क छू। मैं तो सदन में बिल्कुल नि बैठुल। पत्नी की ओर देख बोले- संभाल ल्हिया हो महाराज। यह भी कहा कि जिला पंचायत को अलग पहचान देंगे। समानता, एक दूसरे की भावना की कद्र करना काग्रेस ने सिखाया है। 'एक रौटौ गास सब सदस्य बाट भेर खोंल'। ================

जिले की बेहतरी को करेंगे काम : उमा सिंह नवनिर्वाचित जिपं अध्यक्ष उमा सिंह बिष्ट ने कहा, अल्मोड़ा का गौरवशाली इतिहास रहा है। महान विभूतिया यहां अध्यक्ष रही हैं। विपक्षियों जैसा व्यवहार हम भी करने लगे तो हम में उनमें क्या फर्क रहा। हम भेदभाव नहीं करेंगे। सभी को साथ लेकर जिले की बेहतरी के लिए काम करेंगे। जिपं सदस्यों का आह्वान किया कि टीम भावना के साथ चलना होगा। उपनेता प्रतिपक्ष करन सिंह माहरा, विधायक जागेश्वर गोविंद कुंजवाल, पूर्व विधायक मनोज तिवारी, उत्तराखंड दुग्ध फेडरेशन उपाध्यक्ष दीप सिंह डांगी आदि ने भी विचार रखे। संचालन जिलाध्यक्ष पीतांबर पांडे ने किया। कांग्रेस जिलाध्यक्ष रानीखेत महेश आर्या, पालिकाध्यक्ष प्रकाश जोशी आदि मुख्य रूप से मौजूद रहे। इस दौरान सभी 11 विकासखंडों के प्रमुखों को सम्मानित किया गया। ===============

धन सिंह के बयान पर करन का पलटवार

भाजपा नेता व गड़स्यारी से जिपं सदस्य धन सिंह रावत ने पूर्व सीएम हरीश रावत से कहा कि सत्ता में थे तो गैरसैंण स्थायी राजधानी व नौ जिले तो बना देते। लोग युगों युगों तक याद करते। जवाब में उपनेता करन माहरा ने कहा- धन सिंह जी अपनी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष से सत्ता पर दबाव बनाने के लिए कह दो।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस