संवाद सहयोगी, अल्मोड़ा : जिले के प्राथमिक व माध्यमिक विद्यालयों में छात्र-छात्राओं के लिए पिछले माह आयोजित दक्षता परीक्षा की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन कार्य गुरुवार से विकास खंड मुख्यालयों में शुरू हुआ। इन कापियों का मूल्यांकन जिले के 270 परीक्षक करेंगे।

विदित हो कि जून माह में मंडलायुक्त राजीव रौतेला ने जिले के अनेक विद्यालयों का भ्रमण कर विद्यालयों का निरीक्षण किया। तब उन्होंने शिक्षा विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए थे कि प्राथमिक से लेकर माध्यमिक विद्यालयों के छात्र-छात्राओं की विभिन्न विषयों में दक्षता आधारित परीक्षा कराकर उनकी कापियों का मूल्यांकन किया जाए। इसी क्रम में विगत माह 16 से 24 सितंबर तक यह परीक्षा जिले के लिए चयनित 165 विद्यालयों में की गई। यह विद्यालय रेंडमाइजेशन के आधार पर चयनित किए गए थे। इसमें प्रत्येक विकास खंड से 5 प्राथमिक, 3 जूनियर, 2 हाईस्कूल तथा 5 इंटरमीडिएट विद्यालयों को शामिल किया गया था। इधर अब इन उत्तरपुस्तिकाओं के जांच का कार्य जिले के विकास खंड मुख्यालयों में कर दिया गया है। कॉपियों के जांच के बाद इन परिणामों की जिला स्तर पर समीक्षा होगी। इसके बाद छात्र-छात्राओं के शैक्षिक स्तर सुधारने के लिए उपाय किए जाएंगे।

-----------

इन विषयों में हुई विद्यार्थियों की दक्षता परीक्षा

कक्षा विषय

1 व 2 हिदी, अंग्रेजी व गणित

3 से 5 हिदी, अंग्रेजी व गणित

व परिवेशीय अध्ययन

6 से 8 हिदी, अंग्रेजी, विज्ञान व गणित

9 व 10 हिदी, अंग्रेजी, विज्ञान व

गणित

11 व 12 हिदी, अंग्रेजी, भौतिक

विज्ञान, रसायन विज्ञान,

जीव विज्ञान व गणित

-----------------

जिले में चयनित विद्यालयों के छात्र-छात्राओं की विगत माह हुई दक्षता परीक्षा का मूल्यांकन ब्लॉक स्तरीय समिति ने शुरू कर दिया है। जो 18 अक्टूबर तक चलेगा। परीक्षकों से सावधानीपूर्वक उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन करने को कहा गया है। इस संबंध में सभी खंड शिक्षा अधिकारियों को जरूरी निर्देश पूर्व में ही दिए जा चुके हैं। मूल्यांकन के परिणाम आ जाने के बाद छात्र-छात्राओं की दक्षता की समीक्षा जिला स्तर पर होगी।

-हर्ष बहादुर चंद, जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक, अल्मोड़ा

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस