Move to Jagran APP

उत्तराखंड के इस गांव में फैला डायरिया, पांच दिन में 50 चपेट में; मैदानी क्षेत्रों से आए लोग भी हुए बीमार

Uttarakhand News रानीखेत विधानसभा क्षेत्र के भतरौजखान के निकटवर्ती अदबौड़ा गांव में डायरिया ने पांव पसार लिए हैं। यहां चार-पांच दिन के भीतर लगभग 50 ग्रामीण उल्टी-दस्त की चपेट में आ गए हैं। इससे स्वास्थ्य विभाग हरकत में आ गया है। ग्रामीणों के अनुसार मैदानी क्षेत्रों से कुछ लोग गांव आए थे यहां से वापस लौटने के बाद वह भी उल्टी दस्त की चपेट में आ गए हैं।

By deep bora Edited By: Aysha Sheikh Published: Mon, 10 Jun 2024 08:12 AM (IST)Updated: Mon, 10 Jun 2024 08:12 AM (IST)
भतरौंजखान के डायरियाग्रस्त गांव अदबौड़ा में ग्रामीणों से जानकारी लेती आशा कार्यकर्ता राधा रावत। जागरण

जागरण संवाददाता, रानीखेत/भतरौंजखान। रानीखेत विधानसभा क्षेत्र के भतरौजखान के निकटवर्ती अदबौड़ा गांव में डायरिया ने पांव पसार लिए हैं। यहां चार-पांच दिन के भीतर लगभग 50 ग्रामीण उल्टी-दस्त की चपेट में आ गए हैं। इससे स्वास्थ्य विभाग हरकत में आ गया है। चिकित्सा कर्मियों की टीम ने गांव में कैंप लगाकर ग्रामीणों का उपचार शुरू कर दिया है।

सीएमओ ने कहा कि सोमवार को टीम यहां पुन: कैंप लगाकर ग्रामीणों का उपचार करेगी। डायरिया प्रभावित अदबोड़ा गांव में पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत की ननिहाल है। अदबौड़ा गांव में ग्रामीणों के उल्टी-दस्त की चपेट में आने की सूचना रविवार को सामाजिक कार्यकर्ता दीपक करगेती ने स्वास्थ्य विभाग को दी। इस पर चिकित्सा कर्मियों की टीम ने गांव पहुंचकर लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया।

आशा कार्यकर्ती राधा रावत के अनुसार ग्रामीणों के उल्टी-दस्त की चपेट में आने की सूचना मिली थी। चपेट में आए ग्रामीणों में 12 बच्चे भी शामिल हैं। कुछ ग्रामीणों ने समीपवर्ती चिकित्सालय में उपचार भी कराया है। ग्रामीणों के अनुसार मैदानी क्षेत्रों से कुछ लोग गांव आए थे, यहां से वापस लौटने के बाद वह भी उल्टी दस्त की चपेट में आ गए हैं।

आशा कार्यकर्ती को लेकर गांव में स्वास्थ्य परीक्षण कराया गया। काफी संख्या में ग्रामीण उल्टी दस्त से बेहाल थे। बताया जा रहा है जल जीवन मिशन के तहत बने टैंक की सफाई नहीं किए जाने से दूषित पेयजल के कारण लोग बीमार पड़े हैं। स्वास्थ्य विभाग से सोमवार को शिविर लगाने का आग्रह किया गया है। - दीपक करगेती, सामाजिक कार्यकर्ता

भिकियासैंण तहसील के अदबोड़ा गांव में लोगों के बीमार होने की सूचना मिली है। गांव में टीम भेजी गई है। सोमवार को गांव में शिविर लगा स्वास्थ्य परीक्षण कर लोगों का उपचार किया जाएगा। ग्रामीणों के उपचार को गंभीरता से कदम उठाए जाएंगे। - डा. आरसी पंत, सीएमओ, अल्मोड़ा


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.