संवाद सहयोगी, चौखुटिया: गेवाड़ घाटी के होनहार व प्रतिभाशाली बेटे ने बड़ी कामयाबी अर्जित की है, जो जल्द ही आइएएस अफसर बनेगा। यहां मूल रूप से खनुली गांव निवासी लक्ष्य पांडे ने यूपीएससी द्वारा वर्ष 2018 में आयोजित सिविल सेवा की परीक्षा कर ली है। इस सफलता पर गांव में खुशी का माहौल है तथा समूचे क्षेत्रवासी गदगद हैं।

होनहार लक्ष्य पांडे खुनली गांव निवासी चंद्र प्रकाश पांडे के पुत्र हैं। जो चीफ फार्मासिस्ट के पद से रिटायर्ड हैं। वर्तमान में परिवार दिल्ली में रहता है। माता भगवती पांडे दिल्ली में ब्यूटी पार्लर की दुकान चलाती हैं। लक्ष्य ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा वनयान ट्री स्कूल लोधी रोड़ दिल्ली व उच्च शिक्षा आइपी यूनिवर्सिटी न्यू देहली से ग्रहण की। लक्ष्य का मूल गांव से खास लगाव है, जो मूल गांव आते जाते रहते हैं। पिता चंद्र प्रकाश ने बताया कि लक्ष्य पांडे प्रतिभाशाली छात्र रहा है तथा बचपन से ही मन में आइएएस बनने की तमन्ना पाले था।

इसके लिए उसने कड़ी मेहनत की तथा आखिर तक अपने लक्ष्य को नहीं छोड़ा। तीन बार असफल रहने के बाद चौथी बार उन्हें सफलता मिली है। लक्ष्य पांडे के दादा बाला दत्त पांडे एक जमाने के कांग्रेस के नेता रहे हैं। होनहार लक्ष्य की उपलब्धि पर गांव के लोगों में खुशी है। इसके लिए उन्हें बधाई दी है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप