संवाद सहयोगी, अल्मोड़ा/द्वाराहाट : केंद्र सरकार की भांति पेंशनर्स को एक हजार रुपया प्रतिमाह चिकित्सा भत्ता देने, गोल्डन कार्ड की विसंगतियों को दूर किए जाने समेत अन्य मांगों को लेकर गवर्नमेंट पेंशनर्स वेलफेयर आर्गनाइजेशन ने बुधवार को गांधी पार्क में धरना दिया। साथ ही कहा कि यदि समय रहते समस्याओं का समाधान नहीं किया गया तो आंदोलन तेज किया जाएगा। धरने के बाद डीएम के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन प्रेषित किया गया।

धरना स्थल पर हुई सभा में वक्ताओं ने कहा कि समस्याओं के समाधान की मांग पेंशनर्स लंबे अरसे से कर रहे हैं, इसके बाद भी कोई सुध नहीं लेने से उन्हें आंदोलन करना पड़ रहा है। वक्ताओं ने गोल्डन कार्ड की विसंगतियों को दूर करने, ओपीडी में इलाज की व्यवस्था को कैशलेस करने, गोल्डन कार्ड धारकों के लिए मल्टीपल अस्पतालों को सूचीबद्ध करने की मांग उठाई। धरने में प्रांतीय कार्यकारिणी सदस्य चंद्रमणि भट्ट, हेम चंद्र जोशी, आनंदी वर्मा, पूरन लाल साह, एमसी नयाल, आनंद बल्लभ लोहनी, प्रताप बिष्ट, कैलाश जोशी, गिरीश जोशी, डा. गोकुल रावत, पुष्पा कैड़ा, लक्ष्मण सिंह ऐठानी आदि मौजूद रहे। इधर उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष पीसी तिवारी ने धरना स्थल पहुंच पेंशनर्स के आंदोलन को समर्थन दिया।

द्वाराहाट : गोल्डनकार्ड की विसंगतियों को दूर करने व संगठन की भिकियासैंण शाखा के समर्थन सहित अन्य मांगों को लेकर गवर्नमेंट पेंशनर वेलफेयर आर्गनाइजेशन ने तहसील प्रांगण में धरना दिया। संगठन से जुड़े लोग जुलूस की शक्ल में तहसील भवन पहुंचे, जहां तहसील कार्यालय के माध्यम से सीएम को ज्ञापन भेजा गया। मौके पर केपीएस अधिकारी, प्रताप सिंह बिष्ट, मोहन सिंह बिष्ट, प्रताप सिंह मेहरा, ओपी हर्बोला, शेखर कांडपाल, लक्ष्मी चंद्र त्रिपाठी, ललित मोहन साह, गिरधर मेहरा, गोपाल सिंह, खुशाल किरौला, हंसा दत्त मठपाल, उत्तम नेगी, किसन भंडारी, जोधा बिष्ट, मोहन मठपाल, विनोद कांडपाल आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran