संवाद सहयोगी, अल्मोड़ा : उत्तराखंड परिवहन निगम के अल्मोड़ा डिपो को लाख कोशिशों के बाद भी चालकों की कमी से निजात नहीं मिल पा रही है। आए दिन ऐन मौके पर बसों के स्थगित होने से इन बसों में सफर करने वाले यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। मंगलवार को चालकों की कमी के कारण अल्मोड़ा- टनकपुर तथा अल्मोड़ा-धरमघर सेवा ठप रही।

अल्मोड़ा डिपो से सुबह छह से आठ बजे के मध्य पांच सेवाओं का संचालन किया जाता है, जिसमें से अल्मोड़ा-देहरादून, अल्मोड़ा-दिल्ली तथा अल्मोड़ा-हरिद्वार सेवाओं का संचालन तो हुआ। मगर चालकों की कमी से टनकपुर व धरमघर सेवा संचालित नहीं हो सकी। ऐसे में इन बसों में सफर करने वाले यात्रियों को मजबूरी में यात्रा का वैकल्पिक साधन चुनना पड़ा। वह टैक्सियों में महंगा किराया देकर गंतव्य को रवाना हुए। वहीं दोपहर में अल्मोड़ा-मासी सेवा का संचालन भी कई माह से ठप है। जन अधिकार मंच, उत्तराखंड क्रांति दल समेत रोडवेज के विभिन्न संगठन यथा रोडवेज कर्मचारी संयुक्त परिषद, रोडवेज कर्मचारी यूनियन, उत्तरांचल परिवहन निगम का एससी-एसटी श्रमिक संगठन, उत्तरांचल परिवहन निगम तथा रोडवेज कर्मचारी इंप्लाइज यूनियन चालकों की कमी दूर कर यात्रियों को बेहतर सेवाएं देने की मांग लंबे अर्से से कर रहा है, लेकिन इसके बाद भी स्थिति जस की तस बनी है। इससे जहां एक ओर निगम की आय पर असर पड़ रहा है, वहीं दूसरी ओर यात्रियों को भी ऐन मौके पर परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इन संगठनों ने जल्द यात्रियों व निगम हित में कारगर उपाय किए जाने की मांग शासन व निगम के उच्चाधिकारियों से की है।

............

डिपो में चालकों की कमी की सूचना से निगम मुख्यालय को अवगत कराया गया है।

-गजेंद्र कठैत, एआरएम, रोडवेज

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप