संस, अल्मोड़ा: बेशक विधानसभा चुनाव की अधिसूचना जारी नहीं हुई है। मगर प्रशासनिक स्तर पर तैयारी तेज हो गई हैं। इसी के मद्देनजर मुख्य निर्वाचन अधिकारी देहरादून के निर्देश पर जनपद में उपलब्ध ईवीएम व वीवीपैट्स की प्रथम स्तरीय जांच (एफएलसी) प्रक्रिया शुरू होने जा रही है। ताकि तकनीकी खामियां पकड़ में आ सकें और समय रहते उन्हें दुरुस्त या बदला जा सके।

धारानौला स्थित निर्वाचन कार्यालय में सोमवार से शुरू होने वाली जांच प्रक्रिया की तैयारी पूरी कर ली गई है। जिला निर्वाचन अधिकारी वंदना सिंह ने एसडीएम सदर सीमा विश्वकर्मा को आयोग ने पर्यवेक्षक ईवीएम व वीवीपैट्स नामित किया है। वहीं एसएसपी पंकज भट्ट के निर्देशन में एफएलसी सभागार के लिए पर्याप्त पुलिस बल तैनात रहेगा। मैटल डिटेक्टर भी लगवाया गया है। डीएम ने तहसीलदार मशीनें वेयर हाउस से एफएलसी कक्ष में रखने के निर्देश दिए हैं। साथ ही प्रधानाचार्य राजकीय महिला पॉलीटेक्निक की ओर से अन्य तकनीकी संस्थान व आइटीआइ के कार्मिक तैनात करने के निर्देश दिए हैं। ताकि मशीनों की जांच निर्बाध चल सके। इसी आधार पर मुख्य निर्वाचन अधिकारी देहरादून को आयोग की ओर से निर्धारित प्रारूपों पर रिपोर्ट भेजी जाएगी। ईवीएम व वीवीपैट्स की जांच से समाप्ति तक सभी दलों के अध्यक्ष या प्रतिनिधि भी मौजूद रहेंगे। कोविड-19 के मद्देनजर डीएम वंदना ने सीएमओ को कार्मिकों आदि को संक्रमण से बचाव को किट तैयार कर जिला निर्वाचन कार्यालय को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। नपलच्याल 23 को अल्मोड़ा में

अल्मोड़ा: राज्य सूचना आयुक्त चंद्र सिंह नपलच्याल कुमाऊं दौरे पर पहुंचे रहे हैं। 23 सितंबर को वह पिथौरागढ़ से अल्मोड़ा पहुंचेंगे। 24 को प्रात: 10 बजे से जिला मुख्यालय में डीएम की अदालत में आरटीआइ संबंधी अपीलों व शिकायतों की सुनवाई करेंगे।

Edited By: Jagran