संवाद सहयोगी, अल्मोड़ा : आजादी की अलख जगाने वाले व जय हिद का नारा देने वाले क्रांतिवीर राम सिंह धौनी की पुण्यतिथि पर उन्हें याद किया गया। ट्रस्ट के पदाधिकारियों ने प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उनके संघर्ष व त्याग को अविस्मरणीय बताया। साथ ही उनके बताए गए मार्ग पर चलने का संकल्प भी लिया।

पिथौरागढ़ स्टेट हाईवे पर सिकुड़ा बैंड तिराहे पर स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्व. राम सिंह धौनी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया। ट्रस्ट पदाधिकारियों ने श्रद्धांजलि दी। कार्यकारी अध्यक्ष आनंद सिंह ऐरी व राम सिंह धौनी के पौत्र भूपेंद्र नेगी ने दीप गोष्ठी का शुभारंभ किया। आनंद सिंह ऐरी ने कहा कि धौनी बेहद कुशाग्र बुद्धि के थे। उन्होंने बीए की शिक्षा प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण कर क्षेत्र का प्रथम स्नातक होने का गौरव हासिल किया। उप सचिव श्याम सिंह कुटोला ने 'जै हिद'नारे के रचयिता के रूप में पेश करते हुए उनका जीवन परिचय काव्य रूप में दिया। आचार्य नरेंद्र देव अलंकार से विभूषित आचार्य गिरीश चंद्र जोशी ने कहा कि यदि क्रांतिकारी धौनी का निधन अल्पायु में न हुआ होता तो आज वह देश के स्वतंत्रता सेनानियों की अग्रिम पंक्ति में होते। स्वामी विवेकानंद की भांति ही वह प्रसिद्धि प्राप्त कर इस दुनिया को अलविदा कह गए। सचिव भूपेंद्र नेगी ने कहा की उन्होंने न केवल सालम क्षेत्र से आजादी की अलख जगाई बल्कि देश के विभिन्न प्रांतों राजस्थान, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, नेपाल आदि क्षेत्रों में भी अंग्रेजों के खिलाफ युवा शक्ति जुटा कर 'जै हिद'का नारा बुलंद किया।

इस मौके पर ट्रस्ट कोषाध्यक्ष भगवती परिहार, बसंत बल्लभ तिवारी, र्हिषता नेगी, हीरा सिंह बिष्ट, वीरेंद्र सिंह, गणेश फत्र्याल, नवीन सनवाल, नंदन सिंह, हरीश सिंह,आनंद सिंह, जीसी जोशी आदि मौजूद रहे। उधर सालम समिति की ओर से पूर्व विधायक मनोज तिवारी, अध्यक्ष राजेंद्र सिंह रावत आदि ने भी क्रांतिकारी धौनी को श्रद्धासुमन अíपत किए।

========

स्वतंत्रता आंदोलन में धौनी का योगदान अविस्मरणीय

संस, अल्मोड़ा : सालम समिति अल्मोड़ा ने भी मंगलवार को प्रख्यात स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्व. राम सिंह धौनी की पुण्यतिथि पर उनकी मूíत पर पुष्प अíपत कर उन्हें याद किया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि पूर्व विधायक मनोज तिवारी ने कहा कि देश की आजादी में सालम क्षेत्र का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। उन्होंने कहा कि सालम के बिमौला गांव में जन्मे स्व. राम सिंह धौनी ने देश की आजादी के लिए सरकारी नौकरी को ठुकरा दिया और पूरे देश में आजादी की अलख जुटाने में लग गए। तिवारी ने कहा कि उनके जीवन से प्ररेणा लेकर हम सभी को उनके बताए मार्ग पर चलना होगा।

कार्यक्रम में पालिकाध्यक्ष प्रकाश जोशी, समिति के अध्यक्ष राजेंद्र रावत, अमरनाथ रजवार, लोकमणी भट्ट, पीसी तिवारी, गोपाल सिंह, मनीष चंद्र, विनोद जोशी आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप