संवाद सहयोगी, अल्मोड़ा : फन फेयर में 'मौत का कुआं' में करतब के दौरान बाइक चालक के रेलिंग से टकरा कर गंभीर रूप से घायल होने के मामले में कप्तान ने कड़ा रुख अपना लिया है। उन्होंने हादसे की पुनरावृत्ति की आशंका जताते हुए स्टंट पर प्रतिबंध लगा दिया है। साथ ही पूरे घटनाक्रम की जांच कोतवाल को सौंप रिपोर्ट मांगी है। साफ कहा कि यदि आयोजकों की लापरवाही पकड़ में आई तो कानूनी कार्रवाई अमल में लाएंगे।

याद रहे बीती सोमवार देर रात एसएसजे परिसर से लगे सिमकनी मैदान में फन फेयर में 'मौत का कुआं' में बाइक चालकों का करतब चल रहा था। काफी ऊंचाई पर बनी रेलिंग से दर्शक स्टंट दिखा रहे बाइक चालकों का उत्साह बढ़ा रहे थे। तभी मशरूम नाम का स्टंटमैन चक्कर काटते बाइक समेत रैंप को पार कर बतौर ईनाम दर्शकों से मिलने वाले रुपये झटकने के फेर में रेलिंग तक जा पहुंचा। तभी तेज रफ्तार बाइक रेलिंग के एंगल में टकरा गई। नतीजतन स्टंटमैन मशरूम वाहन समेत नीचे आ गिरा। उसे नाजुक हालत में बेस चिकित्सालय ले जाया गया।

मगर उसकी स्थिति गंभीर देख चिकित्सकों ने हल्द्वानी रेफर कर दिया गया। हादसे में लोधिया निवासी अमर सिंह बाइक का हैंडल सिर पर टकराने से घायल हो गया था। इधर एसएसपी प्रह्लाद नारायण मीणा ने कोतवाल अरुण कुमार वर्मा को जाच सौंप जल्द रिपोर्ट मागी है। साथ ही एसडीएम सदर को फन फेयर में स्टंट के दौरान हादसे की पुनरावृत्ति की आशका को देखते हुए आयोजक को दी गई अनुमति तत्काल निरस्त कर स्टंट प्रतिबंधित करा दिया। वहीं एसएसपी ने कोतवाल को निर्देश दिए हैं कि सुरक्षात्मक उपायों में लापरवाही पाए जाने पर आयोजकों के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई अमल में लाएं।

=================

'जांच कोतवाल को सौंप दी है। पता लगाएंगे कि दुर्घटना की स्थिति आई कैसे। फिलहाल किसी भी स्टंट पर रोक लगा दी है। जांच में अगर आयोजकों की लापरवाही सामने आती है तो निश्चित तौर पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

- प्रह्लाद नारायण मीणा, एसएसपी'

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप