संवाद सहयोगी, अल्मोड़ा : राशन कार्डों को ऑनलाइन करने के लिए पूíत विभाग ने कवायद तो शुरू की, लेकिन निर्धारित समय में यह कार्य पूरा नहीं हो पाया है। पांच महीने बीत जाने के बाद भी अब तक जिले में महज 41 प्रतिशत राशन कार्ड ही ऑनलाइन हो पाए हैं। जबकि इस कार्य के लिए पूर्व में विभाग ने एक महीने का समय निर्धारित किया था।

पूíत विभाग ने जुलाई महीने से राशन कार्डों को ऑनलाइन करने की प्रक्रिया शुरू कर दी थी। राशन कार्ड ऑनलाइन ना कराने पर विभाग ने खाद्यान्न उपलब्ध न कराने की बात भी कही थी, लेकिन संसाधनों के अभाव में अब पूíत महकमा स्वयं राशन कार्डों को ऑनलाइन करने का कार्य समय पर पूरा नहीं कर पा रहा है। जिले की बात करें तो यहां 70 हजार लोग एपीएल, 66 हजार लोग राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना और 14 हजार लोग अंत्योदय राशन कार्डों से आच्छादित हैं। जबकि जिले में कुल छह लाख 93 हजार यूनिट हैं। ऐसे में विभाग के सामने जल्द से जल्द इन राशन कार्डों को ऑनलाइन कराने की चुनौती है। लेकिन कर्मचारियों की कमी और अन्य कारणों से अभी तक विभाग महज 41 प्रतिशत राशन कार्डों का ही सत्यापन कर पाया है।

===========

अधिकारियों ने ली अन्य विभागों की मदद

अल्मोड़ा : कर्मचारियों की कमी से जूझ रहे पूíत विभाग ने अब राशन कार्डों को ऑनलाइन करने के लिए दूसरे विभागों से मदद ली है। महकमे ने इस कार्य के लिए अलग अलग विभागों के करीब एक दर्जन से अधिक कर्मचारियों को इस कार्य में लगाया है। अधिकारियों की मानें तो इस कार्य को जल्द से जल्द पूरा किया जाना है।

==========

पूíत विभाग में कर्मचारियों की कमी से राशन कार्डों को ऑनलाइन करने का कार्य प्रभावित हो रहा था, इसलिए अलग अलग विभागों के कुछ कर्मचारियों को इस काम में लगाया गया है ताकि जल्द लक्ष्य प्राप्त कर लिया जाए।

- सीमा विश्वकर्मा, एसडीएम सदर व प्रभारी पूíत अधिकारी , अल्मोड़ा

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप