मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

संवाद सहयोगी, रानीखेत : पर्यटन नगरी के चौबटिया स्थित उद्यान निदेशालय को रिसर्च सेंटर बनाए जाने की कवायद तेज हो गई है। रिसर्च सेंटर को हाईटेक तकनीक से लैस करने के साथ ही पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए इसे सब्जी व फल के हब के रूप में विकसित किया जाएगा।

चौबटिया स्थित उद्यान निदेशालय में आधुनिक तकनीक से रिसर्च सेंटर स्थापित किए जाने को लेकर गतिविधिया तेज हो गई है। विभिन्न प्रजाति के फलों व पौधों पर रिसर्च की जाएगी। पता लगाया जाएगा कि रिसर्च किए गए पौधे व फल अन्य स्थानों पर बेहतर पैदावार दे सकेंगे या नहीं। वहीं रिसर्च सेंटर के साथ-साथ पर्यटकों को लुभाने के लिए अलग-अलग प्रजातियों की सब्जियों व फलों का हब भी स्थापित किया जाऐगा। विभागीय सूत्रों के अनुसार इसके लिए प्राथमिक स्तर पर तैयारिया तेज कर दी गई है।

=================

ट्रेनिंग सेंटर की भी है तैयारी

उद्यान निदेशालय को रिसर्च सेंटर के साथ-साथ ट्रेनिंग सेंटर बनाए जाने की भी तैयारी की जा रही है। माना जा रहा है कि ट्रेनिंग सेंटर में काश्तकारों, विभागीय अधिकारी व कर्मचारियों को विशेषज्ञ बेहतर प्रशिक्षण देकर उत्पादन के लिए दक्ष बनाएंगे।

====================

महज निदेशालय का बोर्ड ही है। काम कुछ नहीं होता। अब रिसर्च सेंटर खोलने की तैयारी की जा रही है। धन की कमी आड़े नहीं आने दी जाएगी। चौबटिया की गरिमा व रानीखेत को सम्मान देने के साथ ही पूरे देश को बेहतर संदेश देने के लिए आदर्श रिसर्च सेंटर बनाया जाएगा।

- सुबोध उनियाल, कैबिनेट मंत्री उत्त्तराखंड सरकार

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप