वाराणसी, जागरण संवाददाता। इन दिनों भीषण गर्मी हो रही है। ऐसे में किसी के भी शरीर में पानी की कमी हो जाती है। ऐसे में हम पानी से भरपूर मौसमी सस्ते फलों का सेवन कर अपने को तरोताजा रख सकते हैं। अब तो बाजार में तजबूज की भरमार है। वह भी सस्ते दाम में। चंदूआ सट्टी में ही 50 रुपये पसेरी यानी 10 रुपये किलो के भाव बिक रहा है। तरबूज में पाए जाने वाले लाभकारी तत्व व इसके सेवन से होने वाले फायदे के बारे में बता रहे हैं चौकाघाट स्थित आयुर्वेद कालेज के असिस्टेंट प्रोफेसर डा. अजय कुमार।

डा. अजय बता रहे हैं कि तरबूज में विटामिन-ए व सी भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं, जो आपकी प्रतिरोधक क्षमता में तो इजाफा करता ही है साथ ही आंखों की सेहत के लिए भी फायदेमंद है। तरबूज में मौजूद लाइकोपीन कैंसर कोशि‍काओं को समाप्त कर इस गंभीर बीमारी से आपकी रक्षा करता है। तरबूज को काला नमक व काली मिर्च के साथ खाने पर अपचन की समस्या दूर होता है। पाचन तंत्र बेहतर कार्य करता है।

शरीर को रखेगा फिट व हेल्दी : डा. अजय गुप्‍ता ने बताया कि पानी से भरपूर फल होने के कारण तरबूज के बहुत सारे स्वास्थ्य लाभ है। यह हमारे लिए गर्मियों में मौजूद सबसे अच्छे फलों में से एक है। मीठा, पानी से भरपूर व कूलिंग फल होने के कारण यह डाइजेशन में फायदा करने के साथ ही फिट और हेल्दी रहने में मदद करता है। शरीर को हाइड्रेटेड रहने में मदद करता है। यह न केवल गर्मी को रोकने में मदद करता है बल्कि यह अत्यधिक पौष्टिक भी है।

तरबूज में 90 प्रतिशत रहता है पानी : तरबूज में करीब 90 प्रतिशत पानी होता है, जो आपके शरीर को हाइड्रेट रखता है। तरबूज में एंटीआक्सीडेंट्स, विटामिन व मिनरल्स भी खूब होते हैं, जो स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं।

कई सस्याओं से बचाता है तरबूज : गर्मियों के मौसम में सबसे बड़ी समस्या डिहाइड्रेशन की रहती है। इस परेशानी से निपटने में तरबूज काफी मदद कर सकता है। इस फल में 92 प्रतिशत लिक्विड होता है। इससे शरीर को पर्याप्त हाइड्रेशन मिलता है व आप कई तरह की शारीरिक समस्याओं से बचे रहते हैं।

तरबूज के ये भी है लाभ : गर्मी के दिनों में शरीर में पानी की कमी से निपटने के लिए यह बढ़ि‍या विकल्प है। तरबूज में पानी की मात्रा सबसे अधिक पाई जाती है, जिसे खाने पर आपके शरीर में पानी की आपूर्ति होती है। वजन कम करने के लिए रोजाना तरबूज का सेवन बेहतरीन विकल्प है। इसे खाने पर पेट भी जल्दी भरता है और शरीर में वसा का संग्रह भी नहीं होता। इतना ही नहीं यह आपके शरीर को पोषण भी देता है।

Edited By: Abhishek Sharma