वाराणसी, जेएनएन। अब काशी के 10 चौराहों को विकास प्राधिकरण भी स्मार्ट बनाएगा। नगर निगम से बचे 10 चौराहों को वीडीए लेने के साथ उनका सर्वे शुरू कर दिया है। किन-किन चौराहों पर क्या-क्या किया जा सकता है, इसकी तैयारी वीडीए कर रहा है। सीएसआर फंड से 15 करोड़ रुपये नगर निगम के जरिए वीडीए को मिलेगा। जल्द से जल्द काम शुरू करने के लिए वीडीए वीसी ने नगर नियोजक मनोज कुमार को निर्देश दिया है।

स्मार्ट सिटी के तहत शहर की सड़कों, स्ट्रीट लाइट, गंगा घाट, यातायात व्यवस्था दुरुस्त करने के साथ चौराहों को विकसित किए जा रहे हैं। ऐसे में वीडीए को भी 10 चौराहे स्मार्ट बनाने हैं। चौराहों को विकसित करने के साथ वहां कही से धूल नहीं उड़े इस पर खास ध्यान दिया जा रहा है। इसके लिए पेवमेंट व्यवस्था यानि एक छोर से दूसरे छोर तक की सड़क को पूरी तरह से कंक्रीट से या इंटरलॉकिंग किया जाएगा। खास बात यह है कि चौराहों को विकसित करने के साथ वहां काशी से जुड़े विभूतियों की प्रतिमा, बाबा विश्वनाथ धाम या भगवान शिव की मूर्ति लगाई जाएगी। कुछ स्थानों पर अशोक स्तंभ भी बनाए जाएंगे। यह निर्णय उच्च अधिकारियों की बैठक में लिया जाएगा।

इस बारे में वीडीए उपाध्‍यक्ष राहुल पांडेय ने कहा कि नगर निगम ने कई चौराहों का सुंदरीकरण किया है। स्मार्ट सिटी के तहत बचे 10 चौराहों वीडीए स्मार्ट बनाएगा। चौराहों को स्मार्ट बनाने के साथ हरियाली पर विशेष जोर होगा जिससे प्रदूषण पर नियंत्रण रहे। 

वीडीए इन चौराहों को लिया

चांदपुर, लहरतारा, चंद्रा चौराहा, मोढ़ैला, पंचकोशी चौराहा, पहडिय़ा, महावीर मंदिर चौराहा, जेपी मेहता तिराहा, आशापुर, भोजूवीर सब्जी मंडी चौराहा। 

 

Posted By: Saurabh Chakravarty

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस